close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PM मोदी ने गठबंधन को सराब बताया, लेकिन ये जनसमूह बीजेपी को हटाने के नशे में है: मायावती

एक जून, 1995 को गेस्‍टहाउस कांड के बाद सपा और बसपा गठबंधन टूटने के बाद दोनों दिग्‍गज नेता एक साथ एक मंच पर दिखाई दिए.

PM मोदी ने गठबंधन को सराब बताया, लेकिन ये जनसमूह बीजेपी को हटाने के नशे में है: मायावती
24 साल बाद सपा और बसपा के दिग्‍गज नेता एक साथ एक मंच पर दिखे.

मैनपुरी: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha elections 2019) के मद्देनजर करीब 24 साल बाद सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती एक मंच पर दिखाई दिए. एक जून, 1995 को गेस्‍टहाउस कांड के बाद सपा और बसपा गठबंधन टूटने के बाद दोनों दिग्‍गज नेता एक साथ एक मंच पर दिखाई दिए. इस अवसर मुलायम सिंह यादव ने कहा कि ये हमारा आखिरी चुनाव है, कृपया हमको भारी बहुमत से जिताएं. उन्‍होंने मायावती का स्‍वागत करते हुए कहा कि हमारा भाषण आप पहले भी सुन चुके हैं, आज दूसरों को सुनिए. उन्‍होंने बार-बार जोर देकर कहा कि ज्‍यादा लंबा भाषण नहीं दूंगा, भारी बहुमत से जिताएं. मैनुपरी हमारा जिला है, सब हमारे साथ हैं.

मायावती ने पीएम मोदी पर साधा निशाना
इस अवसर पर मायावती ने कहा कि मुलायम सिंह को भारी बहुमत से जिताएं. पहले से भी ज्‍यादा वोट से जिताएं. उन्‍होंने कहा कि गेस्‍टहाउस कांड के बावजूद समझौता किया है. सपा के साथ गठबंधन पर अब और सफाई नहीं दूंगी. पीएम मोदी की जाति पर निशाना साधते हुए बसपा सुप्रीमो ने कहा कि मुलायम सिंह पीएम की तरह फर्जी पिछड़े वर्ग के नहीं हैं. मुलायम सिंह यादव जन्‍मजात पिछड़े वर्ग से ताल्‍लुक रखते हैं और पिछड़े समाज के वास्‍तविक नेता हैं. मुलायम सिंह की विरासत को उनके एकमात्र उत्‍तराधिकारी अखिलेश यादव ने संभाला है.

मायावती ने कहा कि पीएम मोदी ने झूठे वादे किए. बीजेपी की जुमलेबाजी चुनावों में काम नहीं आएगी. बीजेपी ने एक चौथाई वादे भी पूरे नहीं किए. पीएम मोदी ने तो गठबंधन को सराब बता दिया. ये जनसमूह शराब नहीं, बीजेपी को हटाने के नशे में हैं. दो चरण के चुनाव हो चुके हैं. बीजेपी की हवा खराब हो चुकी है. 

रैली को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि देश नाजुक दौर से गुजर रहा है. किसान देश की आत्‍मा हैं. नौजवानों का भविष्‍य अंधकारमय है. ये चुनाव देश का भविष्‍य तय करेगा. जनता पीएम मोदी से देश की चौकी छीनेगी. नया पीएम बनेगा तभी नया भारत बनेगा.

रैली शुरू होने से पहले मायावती के साथ मंच साझा करने को लेकर मुलायम सिंह यादव ने कहा, 'हमें तो भाषण देना है. सभी नेता आ रहे हैं. हर दल के नेता हैं, कार्यक्रम है, दूसरी पार्टी के नेता हैं' मैनपुरी में रैलियां करने के सवाल पर मुलायम सिंह ने कहा, 'क्षेत्र है इससे पहले भी रैली कर चुके हैं, जनता और कार्यकर्ता ने स्वीकार कर रखा है, हमें तो जाना होगा, हमारा क्षेत्र है, बुलाया भी है.' जीत के अंतर और सीटों की संख्या पर नेताजी ने कहा, 'अभी तो वोट पड़ेगा, चुनाव भी शुरू नहीं हुआ है, अभी तो सीटें बंटे नहीं हैं, अभी लिस्ट जारी कहां हुई है.' वहीं मुलायम सिंह ने शिवपाल यादव के बारे में सवाल पूछने पर कहा, 'शिवपाल भाई है, आपको क्या मतलब है?