BJP के दिग्गज नेता घनश्याम तिवाड़ी और सुरेंद्र गोयल ने थामा कांग्रेस का हाथ, बढ़ सकती हैं मुश्किलें

कांग्रेस में शामिल होने के बाद घनश्याम तिवाड़ी ने कहा, राजस्थान में हुए विधानसभा चुनाव के बाद उन्हें महसूस हुआ कि लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा किसी बड़े राजनीतिक संगठन में शामिल हुए बिना करना मुश्किल है. 

BJP के दिग्गज नेता घनश्याम तिवाड़ी और सुरेंद्र गोयल ने थामा कांग्रेस का हाथ, बढ़ सकती हैं मुश्किलें
फाइल फोटो

जयपुर: लोकसभा चुनाव 2019 से पहले राजस्थान में बीजेपी को बड़ा झटका लगा है. दरअसल, भारत वाहिनी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और बीजेपी के बागी नेता घनश्याम तिवाड़ी और सुरेंद्र गोयल ने मंगलवार को राहुल गांधी की उपस्थिति में कांग्रेस का हाथ थाम लिया. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी मंगलवार को जयपुर के दौरे पर थे. 

कांग्रेस में शामिल होने के बाद घनश्याम तिवाड़ी ने कहा, राजस्थान में हुए विधानसभा चुनाव के बाद उन्हें महसूस हुआ कि लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा किसी बड़े राजनीतिक संगठन में शामिल हुए बिना करना मुश्किल है. राहुल गांधी के नेतृत्व में नए रूप में उभर कर सामने आई कांग्रेस पार्टी की लगातार अच्छे काम कर रही है. बता दें कि राजस्थान में हुए विधासभा चुनाव के बीच भी गहलोत-तिवाड़ी की मुलाकातें हुई थीं. सूत्रों का कहना है कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस तिवाड़ी को जयपुर से टिकट दे सकती है.

पिछले पांच वर्ष में किए गए विकास कार्यों के दम पर राजस्थान में लोकसभा चुनाव में बीजेपी का परचम लहराने के दावे पर पार्टी के बागी नेता रोड़ा बन सकते हैं. बीजेपी समर्थकों को भी डर है कि बागी नेता आने वाले विधानसभा चुनाव में राजनीतिक समीकरण बिगाड़ सकते हैं और पार्टी को नुकसान पहुंचा सकते हैं. हालांकि राज्य में पार्टी के नेताओं को ऐसा नहीं लगता. मानवेंद्र सिंह, घनश्याम तिवाड़ी, हनुमान बेनीवाल और किरोड़ी सिंह बैंसला जैसे कई बागी बीजेपी का खेल बिगाड़ने के लिए तैयार हैं.