Zee Rozgar Samachar

इस खिलाड़ी को EC ने बनाया था मतदाता जागरुकता का 'आइकन', खुद ही कर दिया चुनाव प्रचार

ओडिशा में लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ हो रहे हैं. चंद के फेसबुक पोस्ट के बाद आरोप लग रहे हैं कि मशहूर एथलीट ने आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया है.

इस खिलाड़ी को EC ने बनाया था मतदाता जागरुकता का 'आइकन', खुद ही कर दिया चुनाव प्रचार
ओडिशा के मुख्य चुनाव अधिकारी के समक्ष एक शिकायत भी दर्ज करा दी गई है. (फोटो साभार : DNA)

भुवनेश्वर: भारत की ‘स्प्रिंट क्वीन’ के नाम से चर्चित दूती चंद ने चुनाव आयोग की ‘आइकन’ होने के बावजूद ओडिशा में सत्ताधारी बीजू जनता दल (बीजेडी) के एक लोकसभा उम्मीदवार के पक्ष में कथित तौर पर चुनाव प्रचार कर विवाद पैदा कर दिया है. चंद ने कंधमाल लोकसभा सीट से बीजेडी उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहे अच्युत शर्मा के बारे में एक फेसबुक पोस्ट लिखा है. कंधमाल सीट पर दूसरे चरण में गुरूवार (18 अप्रैल) को मतदान होना है.

चंद ने फेसबुक पर लिखा, ‘‘मैं किसी उम्मीदवार या राजनीतिक पार्टी का समर्थन नहीं कर रही. मैं किसी से अच्युत शर्मा के लिए वोट करने की भी अपील नहीं कर रही. लेकिन निजी स्तर पर मैं चुनावों में उनकी सफलता की कामना करती हूं, क्योंकि मेरे लिए वह भगवान जैसे हैं और उन्होंने मेरे खेल करियर को आगे बढ़ाने में काफी मदद की है.’’ उन्होंने यह अनुरोध भी किया कि मामले का राजनीतिकरण नहीं किया जाना चाहिए. चंद उन छह लोगों में से हैं जिन्हें चुनाव आयोग ने ओडिशा में अपना आइकन बनाया है, ताकि वे लोगों को मताधिकार के प्रति जागरूक कर सकें.

गौरतलब है कि ओडिशा में लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ हो रहे हैं. चंद के फेसबुक पोस्ट के बाद आरोप लग रहे हैं कि मशहूर एथलीट ने आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया है. इस बाबत ओडिशा के मुख्य चुनाव अधिकारी के समक्ष एक शिकायत भी दर्ज करा दी गई है. राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी सुरेंद्र कुमार ने पत्रकारों को बताया, ‘‘मामले की जांच की जा रही है और उनके सोशल मीडिया अकाउंट का सत्यापन किया जाएगा.’’ 

चुनाव आयोग ने चंद के अलावा पैरा एथलीट जयंती बेहरा, पैरा शटलर प्रमोद भगत, गायक ऋतुराज मोहंती और सिने कलाकार शिवानी संगीता एवं स्वराज को भी 2019 के चुनावों के लिए राज्य का आइकन नामित किया है.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.