close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

फतेहपुर सीकरी: राज बब्बर ने SP से शुरू हुआ संसद का सफर, रिश्ते बिगड़े तो कांग्रेस मिलाया था हाथ

राज बब्बर शुरुआती दिनों से समाजवादी पार्टी में रहे. राज बब्बर पहली बार 1994 में 1999 के बीच वह राज्यसभा के सदस्य रहे. साल 2004 में वह लोकसभा सांसद बने. 

फतेहपुर सीकरी: राज बब्बर ने SP से शुरू हुआ संसद का सफर, रिश्ते बिगड़े तो कांग्रेस मिलाया था हाथ
राज बब्बर यूपी कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष हैं.

नई दिल्ली: बॉलीवुड से राजनीति में आए राज बब्बर 'किस्सा कुर्सी का' फिल्म से अपने फिल्मी करियर का आगाज किया. राज बब्बर कांग्रेस के सीनियर नेताओं में से एक हैं. राजनीति में आने से पहले वह फिल्मी दुनिया के मंझे हुए अभिनेता थे. वह तीन बार लोकसभा के सदस्य रहे हैं और दो बार राज्यसभा के सदस्य रहे हैं. इस बार कांग्रेस की तरफ से फतेहपुर सीकरी से वह चुनाव लड़ रहे हैं. 

फतेहपुर सीकरी से लड़ रहे हैं चुनाव
इस बार के चुनावी नतीजे यहां बेहद खास होने वाला है क्योंकि कांग्रेस ने पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और सांसद रहे राज बब्बर को मैदान में उतारा है, जबकि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने राजकुमार चाहर, बहुजन समाज पार्टी ने श्रीभगवान शर्मा उर्फ गुड्डू पंडित और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) ने मनीषा सिंह को टिकट दिया है. कुल 15 उम्मीदवार मैदान में हैं, जिसमें 6 प्रत्याशी निर्दलीय हैं. कांग्रेस ने पहले मुरादाबाद से राज बब्बर को मैदान में उतारा था, लेकिन कुछ दिनों के बाद ही मुरादाबाद से उनका टिकट काटकर फतेहपुर सीकरी दे दिया गया. 

आगरा में हुआ है जन्म 
राज बब्बर का जन्म यूपी के आगरा में 23 जून 1952 को हुआ था. उनकी शुरुआती पढ़ाई आगरा में हुई और ग्रेजुएशन भी आगरा कॉलेज से पूरा किया और वह नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा के भी छात्र रहे हैं. दिल्ली में एनएसडी से ट्रेनिंग पूरी करने के बाद बब्बर मुंबई चले गए और रीना रॉय के साथ उन्होंने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की. उन्हें असली पहचान इंसाफ का तराजू फिल्म से मिली.

बब्बर ने की थी दो शादियां
उनकी पहली शादी 1975 में मशहूर थिएटर आर्टिस्ट और फिल्म डायरेक्टर नादिरा बब्बर से हुई. नादिरा से उनके दो बच्चे हैं, जिनके नाम जूही और आर्य बब्बर हैं. राज बब्बर ने दूसरी शादी 1986 में जानी मानी फिल्म एक्ट्रेस स्मिता पाटिल से की. स्मिता पाटिल से उनका एक बेटा प्रतीक बब्बर है, जो बॉलीवुड में अभिनय करते हैं. स्मिता पाटिल का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया था.

लाइव टीवी देखें

ऐसा है राजनीतिक सफर
राज बब्बर शुरुआती दिनों से समाजवादी पार्टी में रहे. राज बब्बर पहली बार 1994 में 1999 के बीच वह राज्यसभा के सदस्य रहे. साल 2004 में वह लोकसभा सांसद बने, लेकिन साल 2006 में उन्हें समाजवादी पार्टी से निष्कासित कर दिया गया. साल 2008 में राजबब्बर ने कांग्रेस ज्वाइन कर ली और 2009 में फिरोजाबाद से पूर्व यूपी सीएम अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव को चुनाव में हराकर सांसद बने. 2014 के लोकसभा चुनावों में उन्होंने गाजियाबाद से चुनाव लड़ा लेकिन वह बीजेपी के जनरल वीके सिंह से चुनाव हार गए. इसके बाद उन्हें यूपी कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष बनाया गया.