जानी दुश्‍मन हैं माया-मुलायम, जनता को छलने की कोशिश कर रहे दोनों : सुधांशु त्रिवेदी

उन्‍होंने शुक्रवार को हुई मायावती, मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव की साझा रैली पर कहा कि मुलायम और मायावती एक-दूसरे के जानी दुश्‍मन रहे हैं. अब यह दोनों मिलकर जनता को छलने का काम कर रहे हैं.

जानी दुश्‍मन हैं माया-मुलायम, जनता को छलने की कोशिश कर रहे दोनों : सुधांशु त्रिवेदी
सुधांशु त्रिवेदी ने साधा निशाना. फाइल फोटो

नई दिल्‍ली : बीजेपी के प्रवक्‍ता सुधांशु त्रिवेदी ने शुक्रवार को यूपी में हुए सपा और बसपा के बीच के गठबंधन पर निशाना साधा. उन्‍होंने शुक्रवार को हुई मायावती, मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव की साझा रैली पर कहा कि मुलायम और मायावती एक-दूसरे के जानी दुश्‍मन रहे हैं. अब यह दोनों मिलकर जनता को छलने का काम कर रहे हैं.

 

सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि आज शत्रुघ्न सिन्हा को प्रधानमंत्री के लिए सबसे ज्यादा पात्र व्यक्ति राहुल गांधी लगते हैं. शत्रुघ्न सिन्हा ने अखिलेश यादव को प्रधानमंत्री पद का दमदार उम्मीदवार बताया है. सुधांशु त्रिवेदी ने कांग्रेस से भी सवाल किया किया कि कांग्रेस खुद अपने सांसद प्रत्याशी से पूछकर यह तय कर ले कि आखिर पीएम मैटेरियल किसमें है और किसमें नहीं.

सपा और बसपा के गठबंधन पर भी सुधांशु त्रिवेदी ने चुटकी ली. मायावती और मुलायम एक दूसरे के जानी दुश्मन रहे हैं. दोनों ने एक दूसरे के खिलाफ मुकदमे दर्ज करा रखे हैं. जान से मारने के प्रयास का मुकदमा दर्ज करा रखा है. जानी दुश्मनी भी हैं और गले मिलने की कोशिश भी दिखाई जा रही है. इसके जरिए शायद यह दोनों जानी दुश्मन जनता को छलने की कोशिश कर रहे हैं.

सुधांशु त्रिवेदी ने राजस्थान सरकार पर भी आर्थिक रूप से पिछड़ों को दस फीसदी आरक्षण नहीं देने का आरोप लगाया. उन्‍होंने कहा कि सरकार ने अभी तक आयुष्मान भारत योजना भी लागू नहीं की गई. प्रदेश में विकास कार्य ठप हो गया है. सरकार तो आजकल जोधपुर में ही व्यस्त दिख रही है.