बौखलाए पाकिस्तान ने बनाई F16 की नई स्क्वाड्रन, भारत-पाक सीमा पर बढ़ाएगा तैनाती

भारतीय वायु सेना के सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तानी वायु सेना के मुशफ एयरबेस में पहले से स्क्वाड्रन 9 है जो F16 फाइटर प्लेन से लैस है.

बौखलाए पाकिस्तान ने बनाई F16 की नई स्क्वाड्रन, भारत-पाक सीमा पर बढ़ाएगा तैनाती
फाइल फोटो

नई दिल्लीः बालाकोट में भारतीय वायु सेना की तरफ से जैश ए मोहम्मद के टेरर कैंप पर सर्जिकल स्ट्राइक से पाकिस्तान बेहद दवाब में है और अब उसने ये फैसला किया है कि वो भारत से लगती सीमा के नज़दीक अपने फाइटर प्लेन की संख्या बढ़ाएगा. वायु सेना के सूत्रों  के मुताबिक पाकिस्तान ने F16 फाइटर प्लेन की नई स्क्वाड्रन बनाई है जिसे मुशफ एयर बेस में बनाया गया है. रिपोर्ट के मुताबिक नए स्क्वाड्रन का नाम 'Aggressor' रखा गया है और पाकिस्तान के इस नए स्क्वाड्रन का नंबर 29 के नाम से जाना जाएगा.

वायु सेना के सूत्रों के  मुताबिक स्क्वाड्रन 29 में कुल 8 F16 फाइटर प्लेन को शामिल किया गया है जो किसी भी आपात कालीन स्थित में भारत के खिलाफ तुरंत करवायी कर सकेगा.

भारतीय वायु सेना के सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तानी वायु सेना के मुशफ एयरबेस में पहले से स्क्वाड्रन 9 है जो F16 फाइटर प्लेन से लैस है और अब ऐसी बेस में एक और F16  स्क्वाड्रन बना कर पाकिस्तानी वायु सेना भारत के खिलाफ अपनी तैयारियों को और आक्रमक बना रही है.

पाकिस्तान के मुशफ एयर बेस को पहले सरगोधा के नाम से भी जाना जाता है जो पाकिस्तान का सबसे पुराना एयरबेस है. पाकिस्तान के पास कुल करीब 30 स्क्वाड्रन है. वहीं भारतीय वायु सेना के पास महज 34 स्क्वाड्रन है और जब साल 2019-20 में भारतीय वायु सेना अपने पुराने पड़ चुके मिग 21 और मिग 27 को फेज आउट करेगी तो स्क्वाड्रन की संख्या घट कर 33 हो जाएगी. भारतीय वायु सेना को कम से कम 42 स्क्वाड्रन की जरूरत है और तभी जाकर वो पाकिस्तान और चीन का मुकाबला कर सकती है.

हम आपको बता दे कि पाकिस्तान के सरगोधा में पाक वायु सेना का सेंट्रल एयर कमांड का सेंटर है और साल 2003 में इसका नाम बदल कर पाकिस्तान ने मुशफ बेस रख दिया था.