BJP ने नियुक्त किए चुनाव प्रभारी, नड्डा को सौंपी यूपी और निर्मला सीतारमण को दिल्ली की कमान

लोकसभा चुनाव 2019 की तैयारियों को देखते हुए शनिवार को 9 राज्यों के चुनाव प्रभारी और सह-प्रभारी नियुक्त कर दिए हैं.

BJP ने नियुक्त किए चुनाव प्रभारी, नड्डा को सौंपी यूपी और निर्मला सीतारमण को दिल्ली की कमान
बीजेपी 26 राज्यों में अपने लोकसभा चुनाव के प्रभारी और सह-प्रभारी नियुक्त कर चुकी है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने लोकसभा चुनाव 2019 की तैयारियों को देखते हुए शनिवार को 9 राज्यों के चुनाव प्रभारी और सह-प्रभारी नियुक्त कर दिए हैं. इनमें निर्मला सीतारमण को दिल्ली और जेपी नड्डा को उत्तर प्रदेश की कमान सौंपी गई है. पार्टी ने पीयूष गोयल को तमिलनाडु, पुडुचेरी और अंडमान-निकोबार में लोकसभा चुनाव प्रभारी नियुक्त किया है. वहीं, इन राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में सी टी रवि सह-प्रभारी होंगे.

पवैया दिल्ली और सारंग हरियाणा के सह-प्रभारी
राज्य/केंद्र शासित प्रदेश प्रभारी/सह-प्रभारी
तमिलनाडु, पुडुचेरी, अंडमान-निकोबार पीयूष गोयल
सी टी रवि
उत्तर प्रदेश (प्रभारी) जगत प्रसाद नड्डा
कर्नाटक मुरलीधर राव
किरण महेश्वरी
दिल्ली निर्मला सीतारमन
जयभान सिंह पवैया
हरियाणा कलराज मिश्र
विश्वास सारंग
त्रिपुरा, जम्मू-कश्मीर अविनाश राय खन्ना

यह भी पढ़ें: अमित शाह का दावा, 'लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल की 23 से अधिक सीटें जीतेगी बीजेपी'
बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व ने 2019 के लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए प्रदेश प्रभारियों की अपनी टीम चुनने में चुनावी अनुभव और संगठनात्मक क्षमता पर भरोसा किया है. चुनाव प्रभारी पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व के भरोसेमंद सहयोगी होते हैं और उनका काम केंद्रीय नेतृत्व और प्रदेश इकाइयों के बीच दूरी को पाटना, जमीनी स्तर से जानकारी प्राप्त करना और पृष्ठभूमि में रहते हुए चुनाव प्रचार निष्पादित करना होता है.

17 प्रभारी/सह-प्रभारी पहले ही नियुक्त किए
इससे पहले बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने 26 दिसंबर 2018 को 17 राज्यों के लिए पार्टी प्रभारियों की नियुक्ति की थी. इसमें बताया गया कि केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर राजस्थान में चुनाव अभियान संभालेंगे वहीं उनके कैबिनेट सहयोगी थावरचंद गहलोत को उत्तराखंड की जिम्मेदारी दी गई. पार्टी द्वारा जारी एक बयान के अनुसार कई राज्यों के लिए सह-प्रभारियों की भी नियुक्ति की गई है.

राजनीतिक रूप से महत्वपूर्ण प्रांत उत्तर प्रदेश में गोवर्धन झड़ापिया, दुष्यंत गौतम और नरोत्तम मिश्रा को जिम्मेदारी सौंपी गयी है. झडापिया गुजरात के नेता हैं वहीं गौतम पार्टी उपाध्यक्ष हैं. नरोत्तम मिश्रा मध्य प्रदेश से हैं. उत्तर प्रदेश में बीजेपी को सपा तथा बसपा के संभावित गठबंधन से कठिन चुनौती मिलने की संभावना है. बयान के अनुसार, बीजेपी महासचिवों भूपेंद्र यादव और अनिल जैन को क्रमश: बिहार और छत्तीसगढ़ का जिम्मा सौंपा गया.

राज्यसभा सदस्य वी. मुरलीधरन और पार्टी सचिव देवधर राव को आंध्र प्रदेश का प्रभारी नियुक्त किया गया. बयान के अनुसार महेंद्र सिंह को असम तथा ओ. पी. माथुर को गुजरात का प्रभारी बनाया गया.

भाजपा ने कई अन्य राज्यों के लिए भी प्रभारियों एवं सह-प्रभारियों की नियुक्ति की. इन राज्यों में हिमाचल प्रदेश, झारखंड, मध्य प्रदेश, मणिपुर, नगालैंड, पंजाब, तेलंगाना और सिक्किम के साथ ही केंद्रशासित प्रदेश चंडीगढ़ भी शामिल है. पार्टी प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी को राजस्थान का सह-प्रभारी बनाया गया है वहीं उत्तर प्रदेश के मंत्री स्वतंत्र देव सिंह तथा दिल्ली भाजपा के पूर्व अध्यक्ष सतीश उपाध्याय मध्य प्रदेश के क्रमशः प्रभारी और सह-प्रभारी होंगे.

भाजपा महासचिव अरूण सिंह, हरियाण के मंत्री अभिमन्यु, कर्नाटक के पूर्व मंत्री अरविंद लिंबावली और उत्तराखंड के पूर्व पार्टी अध्यक्ष तीरथ सिंह रावत को क्रमश: ओडिशा, पंजाब, तेलंगाना और हिमाचल प्रदेश की जिम्मेदारी सौंपी गयी है. अभिमन्यु को चंडीगढ़ का प्रभारी बनाया गया है. पार्टी ने कहा कि प्रवक्ता नलिन कोहली को नगालैंड और मणिपुर की जिम्मेदारी सौंपी गयी है. बिहार के मंत्री मंगल पांडेय को झारखंड का प्रभारी बनाया गया.