close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पाक ने भारत को बदनाम करने के लिए किया Tweet, अपने पीएम इमरान खान की ऐसे थपथपाई पीठ

पीएम इमरान खान के बाद अब उनके नेतृत्व वाली राजनीतिक पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) ने ट्विटर के जरिए पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है.

पाक ने भारत को बदनाम करने के लिए किया Tweet, अपने पीएम इमरान खान की ऐसे थपथपाई पीठ
पीएम इमरान खान की पार्टी पीटीआई ने भारत के साथ अपने 'नए पाकिस्तान' की तुलना की है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के बाद अब उनके नेतृत्व वाली राजनीतिक पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) ने ट्विटर के जरिए पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. पीटीआई ने भारत के साथ अपने 'नए पाकिस्तान' की तुलना की है. पार्टी के ट्विटर हैंडल से इमरान खान और नरेंद्र मोदी की तस्वीर शेयर की गई है जिसमें इमरान के पाकिस्तान को 'नया पाकिस्तान' बताया गया है. इसके साथ ही ट्वीट को नाम दिया गया है- 'दो देश, दो नेता, दो दिन, दो खबर.'

दरअसल, इस ट्वीट में इमरान की छवि एक धर्मनिरपेक्ष नेता के रूप में पेश करते हुए खबर की हेडिंग दी गई है जिसमें बताया गया है कि पेशावर के पंज तीरथ धर्मिक स्थल को पाकिस्तान ने राष्ट्रीय धरोहर घोषित किया है. वहीं, दूसरी तरफ भारत के पीएम मोदी की तस्वीर के साथ भी एक खबर दी गई है. खबर यह है कि भारत में गाय की चोरी के आरोप में एक मुस्लिम शख्स की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई.  

पीटीआई पार्टी ने ट्वीट में लिखा, "प्रधानमंत्री इमरान खान मानवता और अल्पसंख्यकों को अधिकार देने में विश्वास करते हैं. करतारपुर बॉर्डर को राष्ट्रीय धरोहर करना इसका प्रमाण है जबकि हिंदुस्तान में धर्म के नाम पर अल्पसंख्यकों की हत्या की जाती है. यही फर्क इमरान खान को महान नेता के तौर पर पेश करता है."

यह कोई पहला मामला नहीं है जिसमें पाकिस्तान ने भारत की छवि पर सार्वजनिक रूप से टिप्पणी की हो. इससे पहले भी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत और अपने देश में अल्पसंख्यकों के साथ बर्ताव की तुलना का प्रयास किया. उन्होंने कहा कि 'नए पाकिस्तान' में अल्पसंख्यक समुदायों से साथ समान नागिरक के रूप में व्यवहार किया जाएगा, 'वैसा नहीं जैसा कि भारत में हो रहा है.' खान ने कुछ दिन पहने जिक्र किया था कि वह 'नरेंद्र मोदी सरकार को दिखाएंगे कि अल्पसंख्यकों के साथ कैसा बर्ताव किया जाए.'

यह भी पढ़ें: नसीरुद्दीन के बाद औवेसी ने दिया इमरान खान को मुंहतोड़ जवाब, कहा-हमसे कुछ सीखिए
पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की जयंती के मौके पर खान ने यह टिप्पणी की थी. उन्होंने ट्वीट कर कहा, "नया पाकिस्तान कायद (जिन्ना) का पाकिस्तान है और सुनिश्चित करेगा कि हमारे अल्पसंख्यकों के साथ समान नागरिकों के रूप में बर्ताव हो, ना कि वैसा जैसा कि भारत में हो रहा है."

नसीरुद्दीन शाह के बयान का इमरान खान ने किया समर्थन, बोले- जिन्ना ने ये पहले ही कह दिया था
इमरान ने कहा कि जिन्ना ने पाकिस्तान को एक लोकतांत्रिक व दयालु राष्ट्र के रूप में परिकल्पित किया था. एक अन्य ट्वीट में भारत पर निशना साधते हुए खान ने कहा, "मुस्लिमों के लिए एक अलग राष्ट्र के लिए उनका (जिन्ना) संघर्ष उस वक्त शुरू हुआ, जब उन्हें महसूस हुआ कि मुस्लिमों के साथ हिंदू बहुसंख्यकों द्वारा समान नागरिकों के रूप में बर्ताव नहीं किया जाएगा."

इमरान खान ने लपका नसीरुद्दीन शाह का बयान तो मिला जवाब, 'अपना देश संभालिए'
इस मुद्दे पर विवाद तब शुरू हुआ, जब अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने गो रक्षा के नाम पर भारत में भीड़ द्वारा हिंसा की बढ़ती घटनाओं पर विचार व्यक्त किया और देश में बढ़ती धार्मिक असहिष्णुता को लेकर डर जताया. जिसके बाद पाकिस्तान नेता ने भारत सरकार पर हमला बोला और कहा कि 'वह उन्हें दिखाएंगे कि अल्पसंख्यकों के साथ कैसा बर्ताव किया जाए.'