World Cup 2019: बीसीसीआई की उलझन, पाकिस्तान का बहिष्कार 'करें या न करें'
topStorieshindi

World Cup 2019: बीसीसीआई की उलझन, पाकिस्तान का बहिष्कार 'करें या न करें'

चार घंटों तक चली इस बैठक के बाद सीओए इस मुद्दे पर अंतिम फैसला लेने में असमर्थ रही.

World Cup 2019: बीसीसीआई की उलझन, पाकिस्तान का बहिष्कार 'करें या न करें'

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और प्रशासकों की समिति (सीओए) की बीच शुक्रवार को हुई बैठक इसी साल मई में इंग्लैंड में होने वाले आईसीसी विश्व कप में पाकिस्तान के साथ होने वाले मैच पर कोई अंतिम फैसला नहीं ले सकी. चार घंटों तक चली इस बैठक के बाद तीन सदस्यीय सीओए इस मुद्दे पर अंतिम फैसला लेने में असमर्थ रही. सीओए इस मसले पर खुद फैसला लेने से पहले सरकार के फैसले का इंतजार कर रही है.

सीओए के चेयरमैन विनोद राय ने कहा, "16 जून का मैच अभी काफी दूर है. हम इस मैच पर फैसला बाद में लेंगे और इस पर सरकार से बात करेंगे."

कई पूर्व खिलाड़ियों ओर अधिकारियों ने पाकिस्तान के साथ होने वाले मैच का बहिष्कार करने की बात कही है. इसके बारे में राय से जब पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह दूसरों द्वारा दिए गए बयानों को लेकर कुछ नहीं कहना चाहते.

राय ने कहा कि बीसीसीआई अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को एक पत्र लिखेगी जिसमें वह आंतक को पनाह देने वाले देशों का बहिष्कार करने को कहेगी.

राय ने बैठक के बाद यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा, "हम आईसीसी को जो हमला हुआ उसे लेकर अपनी चिंता के बारे में लिखेंगे. साथ ही खिलाड़ियों, अधिकारियों और हर किसी की सुरक्षा पर ध्यान देने के बारे में भी लिखेंगे."

उन्होंने कहा, "हम क्रिकेट समुदाय को बताएंगे कि भविष्य में हमें उन देशों के साथ खेलने पर गंभीर फैसला होना होगा, जहां से आतंकवाद को पनाह मिलती हो."

बैठक में राय और सीओए की अन्य सदस्य डायना इडुल्जी ने विश्व कप में 16 जून को पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले मुकाबले को लेकर यथास्थिति का आंकलन करने का फैसला किया है.

राय ने साथ ही बताया कि इस बार इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का उद्घाटन समारोह नहीं होगा और उसके लिए जो बजट तय किया गया था वह पुलवामा हमले में शहीद हुए जवानों के परिवार को दिया जाएगा.

राय ने कहा, "आईपीएल का उद्घाटन समारोह नहीं होगा. इसका पैसा पुलवामा में शहीद हुए जवानों के परिवारों को जाएगा."

पुलवामा में 14 फरवरी को आतंकी हमला हुआ था जिसमें 40 से ज्यादा सीआरपीएफ जवान शहीद हो गए थे.

(इनपुट-आईएएनएस)

Trending news