कोहली हैं क्रिकेट के चेजमास्टर, 300+ का टारगेट मिलते ही हो जाते हैं खतरनाक

भारत ने एक दशक में 10 बार 300 रन से बड़े लक्ष्य का पीछा किया है. इन 10 मैचों में कोहली ने 993 रन बनाए हैं. 

कोहली हैं क्रिकेट के चेजमास्टर, 300+ का टारगेट मिलते ही हो जाते हैं खतरनाक

नई दिल्ली: विराट कोहली ने पिछले एक दशक में जिस तरह प्रदर्शन किया है, उससे अगर उन्हें ‘चेज मास्टर’ कहा जाए तो शायद ही किसी को एतराज होगा. रनों का पीछा करते हुए विराट कोहली (Virat Kohli) अलग ही रंग में नजर आते हैं. इसकी बानगी साल 2019 के भारत के आखिरी वनडे में देखी गई. विंडीज ने कटक में भारत को 316 रन का लक्ष्य दिया. भारत को अच्छी शुरुआत तो मिली लेकिन अनुभवहीन मध्यक्रम लड़खड़ा गया. लेकिन इसने कोहली को फिर मौका दिया कि वे बतौर चेज मास्टर अपने अध्याय में एक और चैप्टर लिखें. कोहली भी चूके नहीं. उन्होंने 85 रन बनाए और टीम की जीत की दहलीज तक पहुंचाया. वे मैन ऑफ द मैच चुने गए. 

पिछला एक दशक देखा जाए तो 300 से ज्यादा रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए कोहली का औसत 141.85 का है.  भारत ने बीते एक दशक में 10 बार ऐसे लक्ष्य का पीछा किया है. इन 10 मैचों में कोहली ने 993 रन बनाए हैं, जिसमें से सात शतक और सिर्फ एक अर्धशतक शामिल है. यह इकलौता अर्धशतक कटक में रविवार को विंडीज के खिलाफ आया. 

यह भी पढ़ें: 2010-19: विराट कोहली हैं इस दशक के किंग, कोई नहीं है टक्कर में 

इन 10 मैचों में से कई ऐसे मैच हैं जो यादगार रहे हैं. श्रीलंका के खिलाफ आस्ट्रेलिया में वो मैच शायद ही कोई भूल सके जिसमें भारत को 321 रनों का पीछा करना था और मैच 37 ओवरों में जीतना था ताकि तीन देशों की सीरीज के फाइनल में जगह बना सके. कोहली ने 86 गेंदों पर नाबाद 133 रनों का पारी खेल भारत को 36.4 ओवरों में ही जीत दिला दी थी और फाइनल में भी पहुंचा दिया था. 

विराट कोहली ने पिछले 10 साल में वनडे में सबसे ज्यादा 11,125 रन बनाए. इतना ही नहीं सबसे ज्यादा शतक (42) बनाए. वे 35 बार मैन ऑफ द मैच और सात बार मैन ऑफ द सीरीज चुने गए. साल 2019 में कोहली ने खेल के तीनों प्रारूप में सबसे ज्यादा रन बनाए. उन्होंने इस रेस में अपने उप कप्तान रोहित शर्मा को पीछे किया. 

यह भी पढ़ें: धोनी को लेकर क्यों फैला Confusion? जानें इंटरनेशनल करियर 14 साल का है या 15 का... 

विराट कोहली ने 2019 का अंत 2595 रन के साथ किया. यह लगातार चौथी बार है जब चेजमास्टर ने साल का अंत पहले नंबर पर रहते हुए किया है. 2018 में कोहली ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 2735 रन बनाए थे. इसी तरह उन्होंने 2017 में 2818 और 2016 में 2595 रन बनाए थे. विंडीज के खिलाफ खेले गए मैच के बाद कोहली ने कहा, ‘2019 मेरे क्रिकेट करियर के सबसे अच्छे वर्षो में से एक रहा. विश्व कप सेमीफाइनल मैच के वो 30 मिनट हटा दिए जाएं तो यह साल शानदार रहा है.’