Durban Test: श्रीलंका ने जीता 142 साल का सबसे रोमांचक मैच, कुसल परेरा ने लिखा इतिहास

श्रीलंका ने दक्षिण अफ्रीका को पहले टेस्ट में एक विकेट से हराया. कुसल परेरा ने 153 रन की नाबाद पारी खेली. उन्होंने विश्व फर्नांडो के साथ 10वें विकेट के लिए 78 रन की साझेदारी की.

Durban Test: श्रीलंका ने जीता 142 साल का सबसे रोमांचक मैच, कुसल परेरा ने लिखा इतिहास
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ श्रीलंका की कप्तानी दिमुथ करुणारत्ने ने की. (फोटो: PTI)

डरबन: श्रीलंका ने दक्षिण अफ्रीका को पहले टेस्ट मैच के चौथे दिन बेहद रोमांचक मुकाबले में एक विकेट से हरा दिया. उसकी जीत के हीरो कुसल परेरा (Kusal Perera) रहे. उन्होंने 153 रन की नाबाद पारी खेली. कुसल परेरा ने विश्व फर्नाडो (नाबाद 6) के साथ 10वें और आखिरी विकेट के लिए हुई 78 रन की अविजित साझेदारी कर श्रीलंका को लक्ष्य तक पहुंचाया. उन्हें इस बेशकीमती पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया. कुसल परेरा की यह टेस्ट क्रिकेट में सबसे बड़ी पारी भी है. 

यह 142 साल के टेस्ट इतिहास में पहला मौका है, जब किसी टीम ने आखिरी विकेट के लिए 78 रन की साझेदारी कर मैच जीता है. इससे पहले आखिरी विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी कर जीत दर्ज करने का रिकॉर्ड पाकिस्तान के नाम था. इंजमाम उल हक और मुश्ताक मोहम्मद ने 1994 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 57 रन की साझेदारी कर यह जीत दिलाई थी. 1877 से खेले जा रहे टेस्ट क्रिकेट में सिर्फ 13 मैच ही ऐसे हुए हैं, जब कोई टीम एक विकेट से जीती है. श्रीलंका इस अंतर से दो मैच जीत चुका है. जबकि, भारत ने 2010 में ऑस्ट्रेलिया को एक विकेट के अंतर से हराया था. तब वीवीएस लक्ष्मण ने मोहाली टेस्ट में प्रज्ञान ओझा के साथ 10वें विकेट के लिए 11 रन की साझेदारी की थी. 

मेजबान दक्षिण अफ्रीका ने पहली पारी में 235 रन बनाए थे. इसके बाद उसने श्रीलंका को पहली पारी में 191 रन पर ऑलआउट कर 44 रन की बढ़त हासिल कर ली थी. दक्षिण अफ्रीका ने इसके बाद दूसरी पारी में 259 रन का स्कोर बनाया. इस तरह श्रीलंका के सामने जीत के लिए 304 रन का लक्ष्य था. मेहमान टीम ने यह लक्ष्य एक विकेट बाकी रहते हासिल कर लिया. 

श्रीलंका ने लक्ष्य का पीछा करते हुए अपने कल के स्कोर तीन विकेट पर 83 रन से आगे खेलना शुरू किया. ओशाडा फर्नाडो ने 28 और कुसल परेरा ने 12 रन से आगे खेलना शुरू किया. मेहमान टीम ने 110 के स्कोर पर ही फर्नाडो (37) और निरोशन डिकवेला (0) का विकेट गंवा दिया. कुसल परेरा और धनंजय डी सिल्वा (48) ने छठे विकेट के लिए 96 रन की साझेदारी कर टीम को संकट से बाहर निकाला. श्रीलंका ने एक बार फिर 206 के स्कोर पर ही डी सिल्वा और सुरंगा लकमल (0) का विकेट गंवा दिया. 

श्रीलंका की टीम एक समय 226 के स्कोर पर नौ विकेट गंवाकर हार के कगार पर खड़ी थी. दक्षिण अफ्रीका को यहां से मैच जीतने के लिए केवल एक विकेट झटकना था. लेकिन कुसल परेरा ने यहां से और कोई विकेट नहीं गिरने दिया और अपनी संघर्षपूर्ण पारी के दम पर श्रीलंका को रोमांचक जीत दिला दी. श्रीलंका ने 85.3 ओवर में एक विकेट शेष रहते 304 रन का स्कोर बनाकर दक्षिण अफ्रीका के मुंह से जीत छीन ली. 

28 साल के कुसल परेरा ने 200 गेंदों का सामना किया. इसमें उन्होंने 12 चौके और पांच छक्के लगाए. परेरा का यह दूसरा शतक है. उन्होंने इससे पहले 2016 में हरारे में जिम्बाब्वे के खिलाफ 110 रन की शतकीय पारी खेली थी. इसके अलावा कप्तान दिमुथ करुणारत्ने 20, लाहिरु थिरीमाने 21 और कुसल मेंडिस खाता खोले बिना आउट हुए. दक्षिण अफ्रीका की ओर से लेफ्ट आर्म स्पिनर केशव महाराज ने तीन, डेल स्टेन और डुओन ओलिवर ने दो-दो और वेर्नोन फिलेंडर तथा कैगिसो रबाडा ने एक-एक विकेट लिए. 

(इनपुट: आईएएनएस)