IND vs WI: विजाग वनडे जीतकर भी विराट को एक बात कर रही है परेशान

India vs West Indies: विशाखापत्त्नम में बड़ी जीत हासिल करने के बाद भी भारतीय कप्तान विराट कोहली  अपनी फिल्डिंग से संतुष्ट नहीं हैं. 

IND vs WI:  विजाग वनडे जीतकर भी विराट को एक बात कर रही है परेशान
विराट कोहली विजाग वनडे में गोल्डन डक पर आउट हुए थे. (फोटो: IANS)

विशाखापट्टनम: भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) दूसरे वनडे में वेस्टइंडीज के खिलाफ (India vs West Indies) मिली जीत के बाद खुश नहीं हैं. जीत के बाद विराट ने टीम की फील्डिंग में सुधार करने पर जोर दिया है. भारत ने बुधवार को यहां एसीए-वीडीसीए स्टेडियम में खेले गए दूसरे वनडे मैच में अपने एकतरफा खेल की बदौलत वेस्टइंडीज को 107 रनों से हरा दिया. 

इसी के साथ भारत ने तीन मैचों की सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली है. जिससे 22 दिसंबर को कटक में होने वाला आखिरी वनडे निर्णायक और रोमांचक भी हो गया है. कोहली ने मैच के बाद कहा, "हमें फील्डिंग में बेहतर करने की जरूरत है. हम इस तरह से कैच नहीं छोड़ सकते. फील्डिंग कुछ ऐसा है जो बॉल के बारे में हैं. जिस तरह से हम खुद इसका आनंद लेते हैं, उसी तरह से हमें मैदान पर भी इसे लेकर सतर्क रहना चाहिए."

यह भी पढ़ें: IND vs WI: विजाग वनडे में टीम इंडिया के 6 हीरो, जिन्होंने सीरीज में कराई वापसी

भारत ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए रोहित शर्मा (159), लाकेश राहुल (102), श्रेयस अय्यर (53), ऋषभ पंत (39) की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के बूते 50 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 387 रनों का विशाल स्कोर बोर्ड पर टांग दिया. बल्लेबाजों के बाद गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन कर इस लक्ष्य का सफलतापूर्वक बचाव किया और मेहमान टीम को 43.3 ओवरों में 280 रनों पर समेट दिया.

यह भी पढ़ें: विराट बने देश के नंबर एक सेलिब्रिटी,सलमान को छोड़ा पीछे, धोनी 5वे नंबर पर

कोहली ने कहा, "टॉस हारने के बाद हमने जिस तरह पहले बल्लेबाजी की, कप्तान के रूप में यह देखकर अच्छा लगा. यह दशार्ता है कि हम टॉस पर निर्भर नहीं हैं. इस सीरीज के दो वनडे मैचों और वानखेड़े में हुए मुकाबले सहित पिछले तीन मैचों में हमने पहले हाफ में अच्छी बल्लेबाजी की, लक्ष्य का पीछा करते हुए अगर हम सर्वश्रेष्ठ नहीं हैं तो भी शीर्ष टीमों में से एक हैं."

कप्तान ने बल्लेबाजों की तारीफ करते हुए कहा, "रोहित और लोकुश ने शानदार बल्लेबाजी की. श्रेयस और ऋषभ ने भी बढ़िया प्रदर्शन किया. टी-20 में जब वे बल्लेबाजी कर रहे थे तो भी वे ज्यादा आश्वस्त थे. 50 ओवरों के क्रिकेट में ज्यादा कुछ नहीं है और हमें निडर होकर खेलने की जरूरत है."
(इनपुट आईएएनएस)