INDvsAUS: सिडनी टेस्ट का पहला दिन भारत के नाम, मयंक-पुजारा ने दोहराया मेलबर्न का खेल

मयंक अग्रवाल ने मेलबर्न के बाद सिडनी में भी टीम इंडिया को बढ़िया शुरुआत देकर शानदार हाफ सेंचुरी लगाई.

INDvsAUS: सिडनी टेस्ट का पहला दिन भारत के नाम, मयंक-पुजारा ने दोहराया मेलबर्न का खेल
टीम इंडिया को सिडनी में मंयक और पुजारा की पारी ने मजबूती प्रदान की. (फोटो: PTI)

सिडनी: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रही चार टेस्ट मैचों की सीरीज का आखिरी टेस्ट में टीम इंडिया की खराब शुरुआत के बाद शानदार बल्लेबाजी की. टीम के लिए चेतेश्वर पुजारा ने बेहतरीन शतक लगाया उनके अलावा मयंक अग्रवाल ने भी टीम इंडिया को शुरुआती झटके से उबारते हुए 77 रनों की बेहतरीन पारी खेली और टीम में अपना स्थान और पक्का कर लिया. वहीं हनुमा विहारी ने भी नाबाद 39 रनों की प्रभावी पारी खेली. ऑस्ट्रेलिया के लिए जोश हेजलवुड ने सबसे अधिक दो विकेट लिए, वहीं मिशेल स्टॉर्क और नाथन लॉयन को एक-एक सफलता मिली है. 

पहले दिन ही बन गया 300 से ज्यादा का स्कोर
चेतेश्वर पुजारा (130) की नाबाद शतकीय पारी के दम पर भारतीय क्रिकेट टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जारी चौथे और अंतिम टेस्ट मैच के पहले दिन गुरुवार का खेल समाप्त होने तक चार विकेट के नुकसान पर 303 रनों का मजबूत स्कोर खड़ा कर लिया है. सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर जारी इस मैच में पुजारा के साथ हनुमा विहारी (39) नाबाद लौटे. 

शुरुआती झटके से उबारा मयंक-पुजारा ने
भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया था, लेकिन टीम इंडिया को दूसरे ओवर में ही केएल राहुल के रूप में झटका लगा और वे केवल 6 गेंद खेलकर आउट हो गए और टीम इंडिया का स्कोर केवल 10 रन पर एक विकेट हो गया. इसके बाद मयंक और पुजारा ने भारत की पारी को संभाला. लंच तक अपने विकेट बचाने के बाद मयंक ने अपनी हाफ सेंचुरी पूरी की. मयंक की यह फिफ्टी ओवर के 30वें ओवर में आई उन्होंने 96 गेंदों में 6 चौकों के साथ अपनी हाफ सेंचुरी पूरी की.

यह भी पढ़ें: VIDEO: सिडनी टेस्ट में भी फेल हुए केएल, रंग नहीं लाया विराट का भरोसा

मयंक ने फिर किया प्रभावित
लंच तक संभल कर खेलने वाले मयंक को ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने अपने बाउंसर्स से काफी परेशान करने की कोशिश की लेकिन वे मयंक का आत्मविश्वास नहीं डगा सके. लंच तक मयंक मौका देखकर रन भी बनाने से नहीं चूके और 79 गेंदों पर 42 रन बना लिए. मयंक ने अपनी फिफ्टी के बाद तेजी से रन बनाए और दो छक्के लगाने के बाद वे एक और छक्का लगाने के फेर में आउट हो गए. इसके बाद कप्तान विराट कोहली और पुजारा ने चायतक टीम को संभाला और चाय से पहले पुजारा ने अपनी फिफ्टी पूरी की. दोनों ने दूसरे सत्र के समापन तक बिना कोई विकेट गंवाए टीम को 177 के स्कोर तक पहुंचाया. 

तीसरे सत्र में गिरे जल्दी ही दो विकेट
तीसरे सत्र में भारतीय टीम के लिए मैदान पर मौजूद पुजारा और कोहली ने तीन ही रन जोड़े थे कि हेजलवुड ने कोहली को आउट कर भारत को दिन का तीसरा झटका दिया. वह विकेट के पीछे खड़े कप्तान और विकेटकीपर टिम पेन के हाथों लपके गए. पिच के एक छोर पर भारतीय पारी को संभाले खड़े पुजारा का साथ देने आए अजिंक्य रहाणे (18) को स्टॉर्क ने अधिक समय तक मैदान पर टिकने नहीं दिया. वह भी पेन के हाथों लपके गए. 

पुजारा ने जारी रखी पारी और पूरी की सेंचुरी
पुजारा ने इस बीच अपने 68वें टेस्ट मैच में टेस्ट करियर का 18वां शतक पूरा किया. वह आस्ट्रेलिया के खिलाफ एक सीरीज में सबसे अधिक शतक लगाने वाले बल्लेबाजों की सूची में तीसरे स्थान पर हैं. इस सूची में कोहली पहले और सुनील गावस्कर दूसरे स्थान पर हैं. पुजारा ने पांचवें विकेट के लिए विहारी के साथ कोई नुकसान किए बगैर 75 रन जोड़े और टीम को 303 के स्कोर तक पहुंचाया. इसके साथ ही दिन का खेल समाप्त हो गया. पुजारा ने 250 गेंदों का सामना करते हुए 16 चौके लगाए. 

 यह भी पढ़ें:  INDvsAUS: पुजारा का सिडनी में शानदार शतक, लगाई सीरीज की तीसरी सेंचुरी

ये रिकॉर्ड भी बने पुजारा के 130 रनों की पारी में
इस सीरीज में पुजारा ने सबसे अधिक रन बनाए हैं. उन्होंने 458 रन बना लिए हैं. इसके अलावा, वह आस्ट्रेलिया के खिलाफ किसी टेस्ट मैच के पहले दिन सबसे अधिक रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाजों की सूची में अभी छठे स्थान पर हैं. इस सूची में वीरेंद्र सहवाग सबसे ऊपर हैं. पूर्व बल्लेबाज ने मेलबर्न में 2003 में खेले गए मैच में पहले दिन पहली पारी में 195 रन बनाए थे.पुजारा एक सीरीज में आस्ट्रेलिया के खिलाफ सबसे अधिक गेंदों का सामना करने वाले भारतीय बल्लेबाजों में राहुल द्रविड़, सुनील गावस्कर, विजय हजारे और कोहली के साथ शामिल हो गए हैं. उन्होंने इस सीरीज में अब तक कुल 1135 गेंदों का सामना किया है. 

यह भी पढ़ें: VIDEO: पुजारा ने गावस्कर और विश्वनाथ को पीछे छोड़ा, अब निशाने पर विराट कोहली

ऐसे हुआ रिपीट परफॉर्मेंस
दरअसल मयंक और पुजारा के सिडनी टेस्ट के प्रदर्शन और मेलबर्न टेस्ट के प्रदर्शन में काफी समानताएं हैं मेलबर्न में मयंक ने 76 रन बनाए तो सिडनी में 77 रनों की पारी खेली, पुजारा ने मेलबर्न में 106 रन बनाए तो वे अभी सिडनी में 130 पर नाबाद हैं पुजारा मेलबर्न में पहले दिन नाबाद रहे थे तो सिडनी में भी वे पहले दिन नाबाद रहे.