IPL के फाइनल में पहुंचने पर धोनी ने इन्हें दिया जीत का क्रेडिट

चेन्नई ने दिल्ली को 20 ओवरों में नौ विकेट पर 147 रनों से आगे नहीं जाने दिया और इस आसान से लक्ष्य को 19 ओवरों में चार विकेट खोकर हासिल कर लिया.

IPL के फाइनल में पहुंचने पर धोनी ने इन्हें दिया जीत का क्रेडिट
एमएस धोनी ने कहा कि बॉलर लगातार विकेट लेते रहे, जिसका हमें फायदा मिला. तस्वीर साभार: CSK फेसबुक पेज

विशाखापट्टनम: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के इतिहास में जब भी सफल कप्तानों की बात की जाएगी महेंद्र सिंह धोनी का नाम सबसे पहले आएगा. धोनी लीग के मौजूदा 12वें सीजन में भी चेन्नई को फाइनल में ले गए. यह कुल आठवां मौका है, जब चेन्नई आईपीएल फाइनल में पहुंची है. चेन्नई ने शुक्रवार को क्वालीफायर-2 में दिल्ली कैपिटल्स को छह विकेट से मात देकर फाइनल में जगह बनाई, जहां रविवार को वह मुंबई इंडियंस के सामने होगी. धोनी ने दिल्ली के खिलाफ जीत और टीम के फाइनल तक के पहुंचने के सफर का श्रेय अपने गेंदबाजों को दिया है.

चेन्नई ने दिल्ली को 20 ओवरों में नौ विकेट पर 147 रनों से आगे नहीं जाने दिया और इस आसान से लक्ष्य को 19 ओवरों में चार विकेट खोकर हासिल कर लिया.

मैच के बाद धोनी ने कहा, 'इस जीत का अहम हिस्सा लगातार विकेट लेना था. इसका श्रेय गेंदबाजों को जाना चाहिए. एक कप्तान सिर्फ कह सकता है कि मुझे यह चाहिए, लेकिन यह गेंदबाजों पर निर्भर रहता है कि वह किस तरह गेंदबाजी करेंगे और इसके लिए उन्हें काफी मेहनत करनी होती है. हम इस सीजन में यहां तक आए हैं, उसके लिए हमारे गेंदबाजी विभाग को धन्यवाद.'

यह भी पढ़ें: दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर ने कहा, 'हार पर बहाना नहीं बना सकते फिर भी...

धोनी ने कहा, 'हमारे लिए यह आम रास्ता बन गया है, बीते सीजन जरूर काफी उम्मीदें थीं. आज टीम के खिलाड़ियों ने जिस तरह से खेला वह शानदार था. हमने लक्ष्य हासिल करने के लिए जिस तरह से बल्लेबाजी की, वह अच्छी रही.'

यह भी पढ़ें- IPL 2019: चेन्नई ने 8वीं बार फाइनल में बनाई जगह, दिल्ली को दिखाया बाहर का रास्ता

उन्होंने कहा, 'विकेट पर स्पिनरों को टर्न मिल रही थी. हम सही समय पर लगातार विकेट ले रहे थे. उनकी बल्लेबाजी काफी मजबूत है. उनके पास बाएं हाथ के ज्यादा बल्लेबाज हैं और ग्राउंड भी छोटा था. हमारे पास बाएं हाथ का स्पिनर था, वह उसे निशाना बना सकते थे.'