CAA: जामिया के छात्रों के समर्थन में आए इरफान पठान, कहा- हमारा देश उनके लिए चिंतित है...

पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान ने कहा कि राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप का खेल हमेशा चलता रहेगा, लेकिन...

CAA: जामिया के छात्रों के समर्थन में आए इरफान पठान, कहा- हमारा देश उनके लिए चिंतित है...
इरफान पठान. (फोटो: IANS)

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के विरोध में देश के कई इलाकों में प्रदर्शन देखने को मिल रहा है. ऐसे प्रदर्शनों को रोकने के लिए पुलिस को कहीं-कहीं लाठीचार्ज भी करना पड़ा है. इसमें कई प्रदर्शनकारी घायल भी हुए हैं. पूर्व भारतीय क्रिकेटर इरफान पठान (Irfan Pathan) इससे चिंतित हैं. उन्होंने पुलिस लाठीचार्च में घायल जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी (Jamia Millia Islamia University) के छात्रों को लेकर चिंता जताई है. ये छात्र सीएए (CAA) के खिलाफ रविवार शाम प्रदर्शन कर रहे थे. 

पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान ने ट्वीट किया, ‘राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप का खेल हमेशा चलता रहेगा, लेकिन मैं और हमारा देश जामिया के छात्रों के लिए चिंतित है.’ नागरिकता संशोधन अधिनियम (Citizenship Amendment Act) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के बाद दिल्ली पुलिस ने जामिया परिसर में प्रवेश किया. सराय जुलनिया मथुरा रोड पर स्थित इस परिसर में जब हालात ज्यादा गंभीर हो गए तो पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठीचार्ज किया.

virat

यह भी खबर है कि प्रदर्शनकारियों ने न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में डीटीसी बस को जला दिया गया. इसके बाद ही पुलिस ने लाठीचार्ज किया. दिल्ली पुलिस ने हालांकि विश्वविद्यालय परिसर में घुसने की बात को नकारा है.

यह भी देखें: VIDEO: सचिन की तलाश पूरी; आखिर मिल गया वो शख्स, जिसने बताई थी बैटिंग में कमी...

दक्षिण पूर्वी दिल्ली के पुलिस कमिश्नर चिन्मय बिस्वाल ने भी कहा है कि विरोध प्रदर्शन करने वाले लोगों को मात्र पीछे किया गया और पुलिस ने किसी तरह की फायरिंग नहीं की. उन्होंने कहा कि जब पुलिस वालों ने देखा कि उन पर पत्थरबाजी की जा रही है तो उन्होंने ऐसा करने वालों को पहचानने और उन्हें पकड़ने की कोशिश की.