ICC विश्व कप की नाकामी से नहीं उबर पा रहा पाक, कोच-कप्तान और चयनकर्ता तलब

कप्तान सरफराज अहमद, मुख्य चयनकर्ता इंजमाम उल हक और कोच मिकी आर्थर पीसीबी की क्रिकेट समिति के समक्ष पेश हुए. 

ICC विश्व कप की नाकामी से नहीं उबर पा रहा पाक, कोच-कप्तान और चयनकर्ता तलब
पाकिस्तान के कप्तान सरफराज खान. (फोटो: ANI)

लाहौर: भारत, इंग्लैंड समेत विश्व कप खेलने वाले छह देश अपने अगले अभियान में जुड़ चुके हैं. भारतीय टीम विंडीज के साथ खेल रही है. इंग्लैंड की टीम ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका की टीम बांग्लादेश से दो-दो हाथ कर रही है. लेकिन पाकिस्तान की टीम अब भी विश्व कप की नाकामी की समीक्षा में ही उलझी हुई है. पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद, मुख्य चयनकर्ता इंजमाम उल हक और कोच मिकी आर्थर टीम के पिछले चार साल के प्रदर्शन का लेखा-जोखा लेकर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) की क्रिकेट समिति के समक्ष पेश हुए. 

पीसीबी के प्रबंध निदेशक वसीम खान की अध्यक्षता में गद्याफी स्टेडियम में हुई यह बैठक करीब चार घंटे तक चली. यह पहला मौका है जब इंजमाम, सरफराज और आर्थर को समिति के समक्ष पेश होना पड़ा है. पीसीबी की क्रिकेट समिति में मिस्बाह उल हक, वसीम अकरम, जाकिर खान और मुदस्सर नजर शामिल थे. घरेलू क्रिकेट के निदेशक हारून रशीद इसमें भाग नहीं ले सके. 

यह भी देखें: VIDEO: कोहली ने बताया- ऋषभ पंत के लिए क्यों बड़ा मौका है धोनी का टीम में ना होना

बैठक में तीनों से कई सवाल भी पूछे गए. इसके अलावा विश्व कप-2019 में टीम के प्रदर्शन को लेकर भी कई सवाल पूछे गए. समिति के सदस्यों ने नए कप्तान को लेकर भी अपने विचार व्यक्त कर दिए हैं. सूत्रों का कहना है कि सरफराज को अब तीनों प्रारूपों की कप्तानी से हटाया जा सकता है. बैठक में कोच आर्थर ने पाकिस्तान का कोच बने रहने की इच्छा जताई. लेकिन समिति के कुछ सदस्यों ने उन्हें टी-20 विश्व कप तक कोच बनाए रखने की इच्छा जताई है. 

समिति अब इंजमाम, सरफराज और आर्थर के जवाबों के आधार पर पीसीबी के चेयरमैन एहसान मनी को अपनी सिफारिशें भेजेंगी. इन सिफारिशों के आधार पर ही चेयरमैन अब आगे कोई निर्णय लेंगे. पाकिस्तानी अखबार डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक, इंजमाम, सरफराज और आर्थर शुक्रवार को समिति की बैठक के समक्ष पेश हुए, जहां विश्व कप में टीम के प्रदर्शन पर संतुष्टि जताई. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.