Breaking News
  • दिल्‍ली हिंसा पर कांग्रेस ने राष्‍ट्रपति को ज्ञापन सौंपा
  • सोनिया गांधी, मनमोहन सिंह समेत कई नेता राष्‍ट्रपति से मिले
  • अखिलेश यादव सीतापुर के लिए निकले. जेल में बंद सपा नेता आजम खां व उनके परिवार से करेंगे मुलाकात

VIDEO: सिडनी टेस्ट में भी फेल हुए केएल, रंग नहीं लाया विराट का भरोसा

विराट कोहली ने सिडनी टेस्ट में एक बार फिर केएल राहुल पर भरोसा जताया था, लेकिन वे सिडनी टेस्ट में भी नाकाम हो गए. 

VIDEO: सिडनी टेस्ट में भी फेल हुए केएल, रंग नहीं लाया विराट का भरोसा
केएल राहुल के लिए यह सीरीज काफी निराशाजनक रही. (फोटो: PTI)

सिडनी: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रही चार टेस्ट मैचों की सीरीज का आखिरी टेस्ट मैच में टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया. पिच पर घास होने के बाद भी विराट ने पिच को बल्लेबाजी के लिए बढ़िया माना और पहले बल्लेबाजी को चुना. विराट ने रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में केएल राहुल को टीम में शामिल किया था. लेकिन केएल एक बार फिर इस दौरे पर नाकाम हुए और केवल 6 गेंद ही खेलकर चलते बने.

पहले से ही माना जा रहा था कि इस पिच पर शुरुआत में गेंदबाजों को मदद मिलेगी. कॉमेंटेटर्स ने यहां तक कि कह दिया कि पहले दो सत्र में बल्लेबाजी करना आसान नहीं होगा. हुआ भी यही. राहुल शुरु से ही संघर्ष करते नजर आए और शुरू से वे मिचेल स्टार्क और जोश हेजलवुड की सटीक लाइन लेंथ के गेंदों में बीट होने लगे और हेजलवुड ने अपने पहले ही ओवर की तीसरी गेंद पर राहुल को आउट करने में कामयाबी हासिल कर ली. 

ऐसे आउट हुए केएल राहुल
जोश हेजलवुड की इस गेंद पर केएल राहुल खेलने को मजबूर हुए और गेंद बल्ले का बाहरी किनारा लेते हुए स्लिप पर चली गई जहां शॉन मार्श ने कैच पकड़ने में कोई गलती नहीं की. राहुल ने 6 गेंदों पर दो चौकों के साथ 9 रन बनाए. केएल के आउट होने से टीम इंडिया का स्कोर केवल दूसरे ओवर में ही एक विकेट के नुकसान पर 10 रन हो गया था.

केएल राहुल इस सीरीज में बुरी तरह से नाकाम रहे हैं. पहले मैच में केएल ने 2 और 44 रन बनाए. लेकिन उसके बाद पर्थ में वे शून्य और 9 रन ही बना सके. इससे पहले भी कई पारियों में वे भारत को अच्छी शुरुआत देने में नाकाम रहे थे, लेकिन कप्तान विराट कोहली उन पर भरोसा जताते रहे थे. इस सीरीज के तीसरे टेस्ट में उनकी जगह टीम प्रबंधन ने हनुमा विहारी से ओपनिंग कराई जिन्होंने अपने पूरे करियर में (घरेलू सहित) कभी ओपनिंग नहीं की. विहारी मेलबर्न में 66 गेंदों खेल कर अपना विकेट बचाने में कामयाबी हासिल की थी. 

यह भी पढ़ें:  VIDEO: केएल राहुल पर्थ में फिर बोल्ड, इस बार खाता भी नहीं खोल सके, ट्रोल हुए

खराब रही सीरीज राहुल के लिए
केएल ने इस सीरीज की पांच पारियों में अब तक 57 रन बनाए हैं जिसमें एक पारी के 44 रन शामिल हैं. इनमें वे पहले टेस्ट मैच में दो बार (स्लिप और विकेट के पीछे) कैच आउट हुए. दूसरे टेस्ट में दोनों बार बोल्ड, और सिडनी में स्लिप पर कैच आउट हुए थे. साफ है केएल इस समय तकनीक की समस्या से गुजर रहे हैं. वहीं साल 2018 से अब तक राहुल ने 13 मैचों की 23 पारियों में 21.68 के औसत से 477 रन बनाए हैं जिसमें एक शतक और एक अर्धशतक शामिल है. यह एक मात्र शतक टीम इंडिया के इंग्लैंड दौरे के आखिरी टेस्ट की आखिरी पारी में आया था जिससे पहले भी वे पूरी सीरीज में नाकाम रहे थे.