close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विराट कोहली ने किया धोनी को सैल्यूट, कहा- उन्हें लेकर कोई संदेह नहीं

विराट ने कहा, "आज धोनी का दिन था. केवल वही जानते हैं कि उनके दिमाग में क्या चल रहा है." 

विराट कोहली ने किया धोनी को सैल्यूट, कहा- उन्हें लेकर कोई संदेह नहीं
विराट ने कहा, "धोनी ने हमेशा की तरह अपना खेल दिखाया."

एडिलेड: कप्तान विराट कोहली (104) और अनुभवी बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी (नाबाद 55) की बेहतरीन पारियों के दम पर भारत ने मंगलवार को एडिलेड ओवल मैदान पर खेले गए दूसरे वनडे मैच में ऑस्ट्रेलिया को छह विकेट से हरा दिया. इसी के साथ भारत ने तीन मैचों की वनडे सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली है. ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवरों में नौ विकेट के नुकसान पर 298 रन बनाए थे. भारत ने इस लक्ष्य को चार गेंद शेष रहते हुए हासिल कर लिया. मैच के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली ने एमएस धोनी की खुले दिल से प्रशंसा की. 

विराट ने कहा, "यह बहुत चुनौतीपूर्ण दिन था. आपने देखा होगा कि धोनी भी अंत में थक गए थे. आपको मैच के बीच के दिनों में आराम की जरूरत होती है. टीम में धोनी को लेकर कोई संदेह नहीं है. आज धोनी का दिन था. केवल वही जानते हैं कि उनके दिमाग में क्या चल रहा है. गेम को लेकर उनका कैलकुलेशन बहुत अच्छा रहता है. धोनी ने हमेशा की तरह अपना खेल दिखाया. हमने एकदूसरे को काफी सपोर्ट किया. आज की रात हमारे लिए खास रही."

यह भी पढ़ें: VIDEO: धोनी रिटर्न्स! उनका यह छक्का आपको वर्ल्ड कप-2011 की जीत याद दिलाएगा

कोहली ने जीत पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, "मैच जीतकर काफी खुशी हुई. हम ऑस्ट्रेलिया को अंतिम ओवर में ज्यादा रन बनाने से रोकने का प्रयास करना चाहते थे. दो गेदों में दो विकेट (मैक्स और मार्श का विकेट) लेना शानदार रहा. ये दो विकेट निर्णायक रहे. इसका फायदा ये हुआ कि हमें 330 रन का पीछा नहीं करना पड़ा क्योंकि हमने ऑस्ट्रेलिया को 298 रन पर रोक दिया. भुवी ने शानदार गेंदबाजी की और वह हमें गेम में वापस ले आया." 

यह भी पढ़ें: INDvsAUS: टीम इंडिया ने एडिलेड में दर्ज की 20 साल की सबसे बड़ी जीत

कोहली ने रणनीति पर चर्चा करते हुए कहा, "पांच गेंदबाजों के साथ खेलकर मैच जीतना हमेशा कप्तान को खुशी प्रदान करता है. ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज जिस तरह से बल्लेबाजी कर रहे थे, हमने मौके के हिसाब से रणनीति बनाई. लक्ष्य का पीछा करने के दौरान मैंने स्थिति को बहुत सामान्य रखने की कोशिश की. उम्मीद है कि मैं टीम की मदद करता रहूंगा."