इंडिया ओपन: श्रीकांत और पी कश्यप सेमीफाइनल में, अश्विनी पोनप्पा-सिक्की रेड्डी हारीं

भारत के किदांबी श्रीकांत ने क्वार्टर फाइनल में हमवतन बी.साई प्रणीत को तीन गेम तक चले संघर्षपूर्ण मुकाबले में हराया.

इंडिया ओपन: श्रीकांत और पी कश्यप सेमीफाइनल में, अश्विनी पोनप्पा-सिक्की रेड्डी हारीं
पारुपल्ली कश्यप ने क्वार्टर फाइनल में ताइवान के वैंग जू वेई को 21-16, 21-11 से शिकस्त दी. (फोटो: IANS)

नई दिल्ली: स्टार शटलर किदांबी श्रीकांत और पारुपल्ली कश्यप ने अपने-अपने मुकाबले जीतकर योनेक्स सनराइज इंडिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट ( (India Open 2019) के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है. तीसरी सीड किदांबी श्रीकांत (Kidambi Srikanth) ने हमवतन बी.साई प्रणीत (B Sai Praneeth) को तीन गेम तक चले संघर्षपूर्ण मुकाबले में हराया. यह टूर्नामेंट (India Open) इंदिरा गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम के केडी. जाधव इंडोर हॉल में खेला जा रहा है. 

भारत के किदांबी श्रीकांत ने शुक्रवार (29 मार्च) को हमवतन बी.साई प्रणीत को संघर्षपूर्ण मुकाबले में 21-23, 21-11, 21-19 से मात दी. दोनों खिलाड़ियों के बीच यह मुकाबला एक घंटे और दो मिनट तक चला. सेमीफाइनल में श्रीकांत का मुकाबला चीन के हुआंग युक्सियांग से होगा. श्रीकांत एक बार यह टूर्नामेंट जीत चुके हैं. इस तरह वे अपने दूसरे खिताब से दो जीत दूर हैं. 

यह भी पढ़ें: बैडमिंटन: स्टार शटलर एचएस प्रणय ने खेल के लिए छोड़ दिया दूध, अंडे, मशरूम और...

कॉमनवेल्थ गेम्स के पूर्व चैंपियन पी कश्यप (Parupalli Kashyap) सीधे गेम में जीत के साथ अंतिम चार में प्रवेश करने में सफल रहे. वर्ल्ड नंबर-55 कश्यप ने दूसरे क्वार्टर फाइनल में ताइवान के वैंग जू वेई को 21-16, 21-11 से शिकस्त दी. कश्यप को यह मुकाबला जीतने में 35 मिनट लगे. वैंग जू वेई ने प्री क्वार्टर फाइनल में भारत के शुभंकर डे को हराया था. 

kidambi

महिला डबल्स में भारत को निराशा हाथ लगी. अश्विनी पोनप्पा और एन सिक्की रेड्डी की जोड़ी क्वार्टर फाइनल में हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई. भारतीय जोड़ी को इंडोनेशिया की ग्रेसिया पोली और अप्रियानी रहायू की जोड़ी ने सीधे गेमों में 21-10, 21-18 से शिकस्त दी. यह मुकाबला 37 मिनट तक चला. पुरुष सिंगल्स में एचएस प्रणय और महिला सिंगल्स में पीवी सिंधु भी क्वार्टर फाइनल में जगह बना चुकी हैं. प्रणय का मुकाबला दूसरी वरीयता प्राप्त विक्टर एक्सेलसन से होगा. 

(आईएएनएस)