close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: जीरो पर आउट होने वाले क्विंटन डि कॉक ने बताया मुंबई की हार का यह कारण

आईपीएल में कोलकाता और मुंबई के बीच हुए मैच में डिकॉक ने अपनी टीम की हार का कारण हार्दिक के अलावा बाकी बल्लेबाजों को बताया है. 

VIDEO: जीरो पर आउट होने वाले क्विंटन डि कॉक ने बताया मुंबई की हार का यह कारण
(फोटो: IANS)

कोलकाता: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 47वें मुकाबले में की टीम को 34 रनों की तगड़ी हार का सामना करना पड़ा. इस मैच में पहले मुंबई के गेंदबाज कोलकाता के बल्लेबाजों खासकर आंद्रे रसेल पर दबाव नहीं डाल सके जिसकी वजह से कोलकाता ने मुंबई के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करते हुए 232 रन बनाए. इसके जवाब में मुंबई हार्दिक पांड्या के अलावा मुंबई का कोई भी बल्लेबाज नहीं चल सका. मुंबई के विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डिकाक ने मैच के बाद कहा कि मैच में हार्दिक पंड्या को दूसरे छोर से सहयोग नहीं मिलने के कारण उनकी टीम को हार का सामना करना पड़ा. 

इस मैच में मुंबई के सामने 233 रन का लक्ष्य था लेकिन हार्दिक की 34 गेंदों पर 91 रन की तूफानी पारी के बावजूद उसे 34 रन से हार का सामना करना पड़ा. हार्दिक 9वें बल्लेबाजी करने आए थे तब टीम के चार विकेट केवल 58 रन पर गिर गए थे. इसके बाद हार्दिक ने तेजी से रन बनाए और 12वें ओवर में ही टीम का स्कोर 100 के पार कर दिया. 

यह भी पढ़ें:VIDEO: मुंबई की हार से दबा हार्दिक पांड्या का तूफान, बनाए रसेल से ज्यादा और तेज रन

डिकाक ने मैच के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘जब हार्दिक और कीरेन (पोलार्ड) बल्लेबाजी के लिये उतरे तो अच्छा होता कि हमारे कुछ कम विकेट गिरे होते. लेकिन दुर्भाग्य से आज ऐसा नहीं हुआ. शुरू में विकेटों का पतन हो गया तथा हार्दिक को दूसरे छोर से मदद नहीं मिलने से हमारे लिए मुश्किल बढ़ीं.’’ दक्षिण अफ्रीका के इस क्रिकेटर ने कहा कि उपमहाद्वीप के बल्लेबाजी के लिये अनुकूल विकेटों पर इस प्रारूप में गेंदबाजों के पास कम मौके होते हैं. डिकाक ने कहा, ‘‘भारत में आम तौर पर मैदान छोटे होते हैं जबकि विकेट बल्लेबाजों के अनुकूल होते हैं. आस्ट्रेलिया में मैदान बड़े होते हैं तो दक्षिण अफ्रीका में गेंदबाजों को भी कुछ मदद मिलती है. यहां विकेट बल्लेबाजों के अधिक अनुकूल होते हैं. गेंदबाज हमेशा दबाव में रहते हैं.’’ 

खाता भी नहीं खोल सके क्विंटन डि कॉक
डिकॉक इस मैच में अपना खाता नहीं खोल सके. और दूसरे ही ओवर में सुनील नरेन की गेंद पर आंद्रे रसेल को कैच दे बैठे थे. चौथे ओवर में कप्तान रोहित शर्मा 12 रन बनाकर आउट हो गए. उस समय 3.3 ओवर में टीम का स्कोर 21 रन था. इसके बाद 6 ओेवर के बाद इवान लुइस (15 रन) 9वें ओवर में सूर्यकुमार यादव 26 रन बनाकर आउट हो गए. यहां पर हार्दिक बल्लेबाजी करने आए. 

यह भी पढ़ें: VIDEO: रसेल ने खेली तूफानी पारी, पत्नी ने इंटरव्यू लेकर इस अंदाज में किया बर्थडे विश

दबाव बढ़ता गया और 200 रन तक नहीं पहुंच सकी मुंबई 
हार्दिक ने एक छोर पर तेज बल्लेबाजी जारी रखी. कीरोन पोलार्ड ने 14वें ओवर तक साथ दिया. लेकिन उसके बाद 18 ओवर में 185 के स्कोर पर हार्दिक भी आउट हो गए. अंत में क्रुणाल पांड्या ने रन तो बनाए लेकिन वे उस तेजी से रन नहीं बना सके जिसकी टीम को जरूरत थी. वे भी आखिरी ओवर में 24 रन बनाकर आउट हो गए. और पूरी टीम 20 ओवर में सात विकेट खोकर 198 रन ही बना सकी. 

(इनपुट भाषा)