close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ISSF World Cup: भारत के शूटरों ने मिक्स्ड टीम इवेंट में बनाया दबदबा, दोनों गोल्ड जीते

मनु भाकर-सौरभ चौधरी ने 10 मी. एयर पिस्टल मिक्स्ड टीम और दिव्यांश सिंह-अंजुम मोदगिल ने 10 मी. एयर राइफल मिक्स्ड टीम इवेंट में गोल्ड मेडल जीते.

ISSF World Cup: भारत के शूटरों ने मिक्स्ड टीम इवेंट में बनाया दबदबा, दोनों गोल्ड जीते
मनु भाकर और सौरभ चौधरी. (फाइल फोटो)

बीजिंग: भारत के युवा निशानेबाजों ने मिक्स्ड टीम में दबदबा बनाकर आईएसएसएफ शूटिंग विश्व कप (ISSF World Cup) के तीसरे दिन गुरुवार को यहां इन स्पर्धाओं में दांव पर लगे दोनों गोल्ड मेडल जीत लिए. मनु भाकर (Manu Bhaker) और सौरभ चौधरी (Saurabh Chaudhary) की जोड़ी ने 10 मीटर एयर पिस्टल मिक्स्ड इवेंट में लगातार दूसरा स्वर्ण पदक जीता. दिव्यांश सिंह पंवार (Divyansh Singh) ने अनुभवी अंजुम मोदगिल (Anjum Moudgil) के साथ मिलकर 10 मीटर एयर राइफल मिक्स्ड टीम इवेंट में सोने का तमगा जीतकर इसे भारत के लिए यादगार दिन बना दिया. इससे भारत पदक तालिका में पहले स्थान पर पहुंच गया. 

दिन की शुरुआत नई जोड़ी और नए फॉर्मेट से हुई. अपने केवल दूसरे सीनियर टूर्नामेंट में भाग ले रहे दिव्यांश और मोदगिल ने 10 मीटर एयर राइफल मिक्स्ड टीम इवेंट के फाइनल में लियु रूक्सुआन और यांग हाओरन की चीनी जोड़ी को कड़े मुकाबले में 17-15 से हराकर स्वर्ण पदक जीता. यह जीत इसलिए भी महत्वपूर्ण रही क्योंकि अंतरराष्ट्रीय निशानेबाजी महासंघ (आईएसएसएफ) बीजिंग में मिक्स्ड इवेंट में नया फॉर्मेट अपना रहा है. 

यह भी पढ़ें: World Cup 2019: वर्ल्ड कप खेलने जा रही हर टीम में है बड़ी कमजोरी, विराट भी परेशान

अंजुम मोदगिल और दिव्यांश सिंह पंवार ने 522.7 अंक के साथ छठे स्थान पर रहकर फाइनल्स में जगह बनायी थी. स्वर्ण पदक के मुकाबले में एक समय वे 11-13 से पीछे चल रहे थे लेकिन उन्होंने वापसी करके सोने का तमगा जीता. अपूर्वी चंदेला और दीपक कुमार की एक अन्य भारतीय जोड़ी क्वालीफाईंग में 522.8 अंक के साथ पांचवें स्थान पर रही थी लेकिन फाइनल्स में वे अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए और छठे स्थान पर रहे. 

इसके बाद मनु भाकर और सौरभ चौधरी ने 10 मीटर एयर पिस्टल मिक्स्ड टीम इवेंट में भारत को दूसरा स्वर्ण पदक दिलाया. इन युवा जोड़ी ने फाइनल में चीन के जियांग रैंक्सिन और पांग वेई को 16-6 से हराया. भारतीय जोड़ी ने 482 अंकों के साथ पांचवें स्थान पर रहकर फाइनल्स के लिए क्वालीफाई किया था. उन्होंने पहली छह सीरीज में जीत दर्ज की और फिर स्वर्ण पदक के मुकाबले में अपना दबदबा बनाए रखा. 

यह भी पढ़ें: World Cup 2019: सौरव गांगुली का दावा- ये 4 टीमें बनाएंगी सेमीफाइनल में जगह

मनु भाकर और सौरभ चौधरी का यह 10 मीटर एयर पिस्टल मिक्स्ड टीम इवेंट में दूसरा स्वर्ण पदक है. इन दोनों ने नई दिल्ली में फरवरी में आईएसएसएफ विश्व कप में भी सोने का तमगा जीता था. भाकर बुधवार को महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल व्यक्तिगत स्पर्धा के लिए क्वालीफाई करने में नाकाम रही थी. 

10 मीटर एयर पिस्टल मिक्स्ड टीम में हीना सिद्धू और रिजवी शहजार की दूसरी भारतीय जोड़ी क्वालीफिकेशन में 479 अंक बनाकर 12वें स्थान पर रही और फाइनल्स में जगह नहीं बना पाई. नए प्रारूप के अनुसार क्वालीफाईंग में चोटी की आठ टीमें फाइनल के लिए क्वालीफाई करती है. जहां चार क्वार्टर फाइनल, दो सेमीफाइनल और फिर फाइनल से विजेता का निर्णय होता है. पुरुषों के 25 मीटर एयर पिस्टल में क्वालीफिकेशन के पहले दिन के बाद आदर्श सिंह 290 अंक के साथ 15वें, अनीश भानवाला 289 अंक लेकर 17वें और अर्पित गोयल 288 अंक के साथ 22वें स्थान पर चल रहे हैं। इस स्पर्धा में कुल 57 निशानेबाज भाग ले रहे हैं. 

(भाषा)