2 October News

alt
भारत में महिलाओं को बराबरी का हक देने की बात बरसों से हो रही हैं. इसके लिए नारे भी बुलंद किए जाते हैं, लेकिन अभी तक बात महिला-पुरुष के बराबरी तक नहीं पहुंची है. आज देश महात्मा गांधी जयंती मना रहा है. वो गांधी ही थे जिसने आजादी की लड़ाई में देश की महिलाओं के एकत्रित किया था. गांधी न शांति और अहिंसा के पक्ष में रहे बल्कि महिलाओं के प्रति उनका नजरिया भी काफी अलग था. गांधी जी ने कहा था कि अहिंसा हमारे जीवन का धर्म है, तो भविष्य नारी जाति के हाथ में ही है. जहां तक महिलाओं के अधिकारों का सवाल है, मैं  समझौता नहीं करूंगा. गांधी महिलाओं को सशक्तीकरण के रूप में नहीं देखते थे, बल्कि उनका मानना था कि महिलाएं पहले से ही सशक्त हैं. आज गांधी जयंती पर हम आपको महिलाओं के लिए कही गई उनके चुनिंदा विचार बता रहे हैं-
Oct 2,2022, 0:18 AM IST

Trending news