close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कर रहे हैं विदेश घूमने की तैयारी तो वीजा के 10 बदले नियमों के बारे में जरूर जानें

25 देशों के लिए भारतीयों को वीजा की जरूरत नहीं है, जबकि 41 देशों में वीजा-ऑन-अराइवल की सुविधा है.

कर रहे हैं विदेश घूमने की तैयारी तो वीजा के 10 बदले नियमों के बारे में जरूर जानें
132 देशों की यात्रा करने से पहले वीजा की जरूरत होती है.

नई दिल्ली: अगर आप विदेश घूमने की तैयारी कर रहे हैं तो पहले आपके पास पासपोर्ट होना चाहिए. उसके बाद उस देश में जाने की अनुमति जिसे वीजा कहते हैं. भारतीय पासपोर्ट की बात करें तो ग्लोबल पासपोर्ट इंडेक्स में यह 66वें पायदान पर है. पर्यटन को बढ़ावा देने के मकसद से सभी देशों ने विश्व के अन्य देशों के साथ वीजा को लेकर अलग-अलग करार किया है. विश्व के 25 देशों में कोई भी भारतीय बिना वीजा के जा सकते हैं. 41 देशों के साथ वीजा ऑन अराइवल (पहुंचने पर वीजा मिलना) का प्रावधान है. जबकि 132 देशों की यात्रा करने से पहले आपके पास वीजा होना चाहिए.

वीजा का मिलना बहुत मुश्किल भरा काम होता है. इसके लिए कई तरह के पेपर वर्क करने होते हैं. कई बार पूछताछ होती है, जिसके बाद वीजा मिलता है. इन परेशानियों को ध्यान में रखते हुए वीजा जारी करने के नियमों में बदलाव किया गया है. आइए जानते हैं कि वीजा के नियमों में क्या और कि तरह के बदलाव किए गए हैं.

विदेशी पर्यटकों की पसंदीदा जगह है लेह, 2018 में 3 लाख सैलानी पहुंचे

1. भारतीयों को वीजा देने के मामले में जापान हमेशा से काफी सख्त रवैया अपनाता रहा है. जापान का वीजा मिलना अमेरिका और अन्य यूरोपीय देशों का वीजा मिलने के बराबर ही है. बदले नियम के बाद अगर आप कम समय के लिए जापान की यात्रा करते हैं तो इसके लिए एंप्लॉयमेंट और एक्सप्लेनेशन लेटर की जरूरत नहीं है.

2. UAE अपने देश में पर्यटन का बहुत तेजी से विस्तार कर रहा है. दुबई को दुनिया के पर्यटन हब के रूप में विकसित किया गया है और इसका लगातार  विस्तार होता जा रहा है. ऐसे में जिनके पास UAE का वीजा है उनके 18 साल से छोटे डिपेंडेंट (बेटा-बेटी) को 15 जुलाई से 15 सितंबर के बीच वीजा फ्री ट्रैवल की सुविधा दी गई है. इसके अलावा रिसर्च, मेडिकल, साइंस के प्रोफेशनल्स और इंवेस्टर्स को 10 साल के लिए लॉन्ग टर्म वीजा दिया जाने लगा है.

3. पहले फ्रांस के एयरपोर्ट पर भारतीयों को कनेक्टिंग फ्लाइट (इंटरनेशनल जोन में रहते हुए) लेने के दौरान भी ट्रांजिट वीजा की जरूरत पड़ती थी. 23 जुलाई 2018 से ट्रांजिट वीजा के झंझट को खत्म कर दिया गया है. हालांकि, अभी भी अगर आप इस दौरान फ्रांस की खूबसूरती को देखना चाहते हैं तो ट्रांजिट वीजा की जरूरत होगी.

4. अगर आप अमेरिका, इंग्लैंड, जापान, ऑस्ट्रेलिया और कनाडा के रेसिडेंट हैं या इन देशों का आपके पास एंट्री वीजा है तो ओमान से आपको एक महीने का ट्रैवल वीजा आसानी से मिल जाता है. हालांकि, इसके लिए फीस भरनी पड़ती है.

5. म्यांमार ने भारत के साथ e-Visa सेवा की शुरुआत की है. ऐसे में आप अगर म्यांमार घूमने जाना चाहते हैं तो 48 घंटे के भीतर ऑनलान आवेदन कर वीजा मिल जाएगा. इसी तर्ज पर उजबेकिस्तान ने भी भारत के साथ e-Visa की शुरुआत की है. ई-वीजा से 1 महीने तक रहने की अनुमति मिल जाती है.

6. सऊदी अरब पहले अकेली महिला को वीजा की अनुमति नहीं देता था. लेकिन वहां बदलाव की हवा बह रही है. 25 साल से ज्यादा उम्र की महिला को अब टूरिस्ट वीजा आसानी से मिल जाता है. अब महिलाओं को किसी पुरुष हमसाये की जरूरत नहीं है.

7. जिम्बाब्वे ने भारत समेत 28 देशों के लिए वीजा ऑन अराइवल की सुविधा को शुरू किया है.

8. इजरायल ने भारतीयों के लिए वीजा फीस को कम किया है. अगर आप इयरायल घूमने और बिजनेस करने के मकसद से जाते हैं तो B2 कैटेगरी के तहत वीजा फीस को 1700 रुपये से घटाकर 1100 रुपये कर दिया गया है.

9. अगर आप कजाख एयरलाइन (Kazakh Airline) से यात्रा कर रहे हैं तो कजाखिस्तान भारतीयों को 72 घंटे का ट्रांजिट वीजा दे रहा है.

10. आने वाले दिनों में दुबई और अबू धाबी के लिए वीजा के नियमों में बदलाव की पूरी संभावना है. ऐसी संभावना है कि ये दोनों मुल्क भारतीयों को 2 दिनों के लिए मुफ्त में ट्रांजिट वीजा दे सकते हैं.