सऊदी अरब को न्यूक्लियर टेक्नॉलजी बेचने में जल्दबाजी कर सकते हैं ट्रंप, डेमोक्रेटिक सांसदों ने चेताया

पर्यवेक्षण और सुधार पर प्रतिनिधि सभा की एक कमेटी के प्रतिनिधि ई क्युमिंग्स ने व्हाइट हाउस से विभिन्न दस्तावेज सौंपने की मांग की है.

सऊदी अरब को न्यूक्लियर टेक्नॉलजी बेचने में जल्दबाजी कर सकते हैं ट्रंप, डेमोक्रेटिक सांसदों ने चेताया
फाइल फोटो

वाशिंगटन: अमेरिकी सांसदों ने मंगलवार को कहा कि वे इस बात की जांच पड़ताल कर रहे हैं कि क्या राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप उन कॉर्पोरेट समर्थकों को प्रसन्न करने के लिए सऊदी अरब को संवेदनशील परमाणु प्रौद्योगिकी बेचने के लिए जल्दबाजी कर रहे हैं जिन्हें इससे अच्छा मुनाफा होना तय है. जांच का जिम्मा प्रतिनिधिसभा की एक कमेटी के पास है जिसका नेतृत्व पिछले महीने से डेमोक्रेटिक पार्टी द्वारा किया जा रहा है. कमेटी ने कहा है कि ''भंडाफोड़'' करने वालों ने हितों के टकराव की चेतावनी दी है.

पर्यवेक्षण और सुधार पर प्रतिनिधि सभा की एक कमेटी के प्रतिनिधि ई क्युमिंग्स ने व्हाइट हाउस से विभिन्न दस्तावेज सौंपने की मांग की है. इन दस्तावेजों में ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के दो महीने बाद ही उनके दामाद जे कुशनर और सऊदी अरब के शक्तिशाली नेता मोहम्मद बिन सलमान के बीच हुई बैठक से संबंधित दस्तावेज भी शामिल हैं. कमेटी की एक प्रारंभिक रिपोर्ट में कहा गया है कि सऊदी अरब को संवेदनशलील प्राद्यौगिकी हस्तांतरित करने पर निजी वाणिज्यिक हितधारक जोर दे रहे हैं. 

रिपोर्ट में कहा गया है, ''ये वाणिज्यिक इकाइयां सऊदी अरब में परमाणु सुविधाओं के निर्माण एवं संचालन से जुड़े ठेकों से अरबों डालर प्राप्त करेंगी और परोक्ष रूप से ये वर्तमान समय में भी राष्ट्रपति ट्रंप और उनके प्रशासन के नजदीकी सम्पर्क में हैं.'' 

(इनपुट भाषा से)