भारत से दोस्ती के लिए ब्रिटेन ने पहले चीन से ली टक्कर, मसूद पर बैन के मामले में लगाई जान

ब्रिटिश उच्चायुक्त सर डोमिनिक ऐसक्वीथ ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि पुलवामा आतंकी हमला और इसके बाद के घटनाक्रमों के मद्देनजर भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़े तनाव को कम करने में ब्रिटेन सक्रियता से शामिल रहा था. 

भारत से दोस्ती के लिए ब्रिटेन ने पहले चीन से ली टक्कर, मसूद पर बैन के मामले में लगाई जान
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: ब्रिटेन ने शुक्रवार को कहा कि वह जैश ए मोहम्मद प्रमुख मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र द्वारा जल्द ही एक वैश्विक आतंकवादी घोषित कराने के प्रति आशावादी है. साथ ही, पाकिस्तान द्वारा आतंकी संगठनों के खिलाफ ‘सत्यापित किये जाने योग्य’ कार्रवाई करने की भी मांग की. ब्रिटिश उच्चायुक्त सर डोमिनिक ऐसक्वीथ ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि पुलवामा आतंकी हमला और इसके बाद के घटनाक्रमों के मद्देनजर भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़े तनाव को कम करने में ब्रिटेन सक्रियता से शामिल रहा था.

भारत के साथ संबंधों पर उन्होंने कहा कि ब्रिटेन बेक्जिट के बाद भारत के साथ संबंधों को और मजबूत करना चाहता है क्योंकि वह और भी प्रगाढ़ द्विपक्षीय व्यापार एवं निवेश संबंध चाहता है. उन्होंने कहा कि भारत के साथ ब्रिटेन मुक्त व्यापार समझौता को भी इच्छुक है. अजहर के वैश्विक आतंकी घोषित कराने के बारे में पूछे जाने पर ब्रिटिश उच्चायुक्त ने कहा, ‘‘हम यह देखना चाहते हैं कि इसमें अडंगा डाल रहा देश (चीन) क्या अपना प्रतिरोध बंद करता है. हम इस बारे में आशावादी हैं.’’ 

आपको बता दें कि चीन ने 13 मार्च को 1267 अलकायदा प्रतिबंध समिति में अमेरिका, ब्रिटेन से समर्थित फ्रांस के एक प्रस्ताव को यह कह कर बाधित कर दिया था कि उसे मामले के अध्ययन के लिए और वक्त चाहिए. चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा था कि प्रस्ताव पर रोक यह ध्यान में रखते हुए भी लगाई गई थी कि पुलवामा आतंकवादी हमले के बाद संबंधित पक्ष को बातचीत करने का समय मिल सके. 

इसके बाद अमेरिका ने अजहर को काली सूची में डालने के लिए 27 मार्च को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सीधे एक प्रस्ताव पेश कर दिया था जिसके बारे में चीन ने कहा था कि यह 1267 समिति को कमतर आंकने के बराबर है.  प्रवक्ता की तरफ से सोमवार को की गई ये टिप्पणियां पहली बार की गई हैं जब चीन ने अजहर के मुद्दे को सुलझाने की प्रगति के बारे में कुछ कहा.