200 रेलवे स्टेशनों पर जल्द मिलने वाली हैं ये सुविधाएं, देश में 400 वंदे भारत ट्रेनें चलाने की भी तैयारी

देशभर के कम से कम 200 रेलवे स्टेशनों का कायाकल्प किया जाएगा. इन्हें आधुनिक सुविधाओं से लैस किया जाएगा. रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने सोमवार को महाराष्ट्र के औरंगाबाद रेलवे स्टेशन पर एक कोच रखरखाव कारखाने के शिलान्यास समारोह में यह टिप्पणी की. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Oct 3, 2022, 05:25 PM IST
  • स्टेशनों पर उपलब्ध होंगी मनोरंजन से जुड़ीं सुविधाएं
  • भविष्य में देश में चलेंगी 400 वंदे भारत ट्रेनेंः वैष्णव

ट्रेंडिंग तस्वीरें

200 रेलवे स्टेशनों पर जल्द मिलने वाली हैं ये सुविधाएं, देश में 400 वंदे भारत ट्रेनें चलाने की भी तैयारी

नई दिल्लीः देशभर के कम से कम 200 रेलवे स्टेशनों का कायाकल्प किया जाएगा. इन्हें आधुनिक सुविधाओं से लैस किया जाएगा. रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने सोमवार को महाराष्ट्र के औरंगाबाद रेलवे स्टेशन पर एक कोच रखरखाव कारखाने के शिलान्यास समारोह में यह टिप्पणी की. 

उन्होंने कहा, '47 रेलवे स्टेशनों के लिए निविदा प्रक्रिया पूरी हो चुकी है, जबकि 32 स्टेशनों पर काम शुरू हो गया है. रेलवे का कायाकल्प हो रहा है.' 

स्टेशनों पर उपलब्ध होंगी मनोरंजन से जुड़ीं सुविधाएं
बकौल वैष्णव, 'केंद्र सरकार ने 200 रेलवे स्टेशनों के कायाकल्प के लिए मास्टर प्लान तैयार किया है. स्टेशनों पर ओवरहेड स्पेस बनाए जाएंगे. इनमें बच्चों के मनोरंजन से जुड़ी सुविधाओं के अलावा प्रतीक्षा लाउंज और फूड कोर्ट सहित कई अन्य विश्व स्तरीय सुविधाएं उपलब्ध होंगी.'

भविष्य में देश में चलेंगी 400 वंदे भारत ट्रेनेंः वैष्णव
वैष्णव ने यह भी कहा कि रेलवे स्टेशन क्षेत्रीय उत्पादों की बिक्री के ‘मंच’ के रूप में काम करेंगे. वंदे भारत ट्रेन के निर्माण में महाराष्ट्र के मराठवाड़ा क्षेत्र के योगदान का जिक्र करते हुए रेल मंत्री ने कहा, 'भविष्य में देश में 400 ‘वंदे भारत’ ट्रेन होंगी. इनमें से 100 ट्रेन का निर्माण मराठवाड़ा के लातूर स्थित एक कोच फैक्टरी में किया जाएगा. कारखाने में पहले से ही आवश्यक बदलाव किए जा रहे हैं.' 

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री गति शक्ति योजना के तहत देश के सभी हिस्सों को अब या तो राजमार्गों या फिर रेलवे के माध्यम से जोड़ा जा रहा है और इस योजना के तहत मराठवाड़ा क्षेत्र के कुछ हिस्सों को भी जोड़ा जाएगा. 

कारखाने की क्षमता बढ़ाने की मांग पर हो रहा विचार
वैष्णव ने कहा कि औरंगाबाद स्थित कोच रखरखाव कारखाने की मौजूदा क्षमता 18 कोच है, लेकिन महाराष्ट्र विधान परिषद में विपक्ष के नेता अंबादास दानवे ने इसे बढ़ाकर 24 कोच किए जाने की मांग की है. रेल मंत्री ने बताया कि उन्होंने अधिकारियों को दानवे की मांग की समीक्षा करने और अगले 15 दिनों में प्रस्ताव भेजने का निर्देश दिया है.

यह भी पढ़िएः देश के इन इलाकों में दशहरे पर होती है रावण की पूजा, जानें क्या है इसके पीछे की कहानी?

 

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़