ICC World Cup: पाकिस्तान सेमीफाइनल की रेस में फिर लौटा, लेकिन इंग्लैंड हारे तभी बनेगी बात

ICC World Cup: पाकिस्तान सेमीफाइनल की रेस में फिर लौटा, लेकिन इंग्लैंड हारे तभी बनेगी बात

फिलहाल स्थिति यह है कि न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया और भारत तो टॉप-4 की रेस में दमदारी से बढ़ते नजर आ रहे हैं लेकिन चौथी टीम के लिए मुकाबला रोचक हो गया है. 

ICC World Cup: पाकिस्तान सेमीफाइनल की रेस में फिर लौटा, लेकिन इंग्लैंड हारे तभी बनेगी बात

नई दिल्ली: आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप (ICC Cricket World Cup) जैसे-जैसे आगे बढ़ रहा है, वैसे-वैसे रोमांच बढ़ता जा रहा है. शुरुआती 20-22 मैचों के बाद सेमीफाइनल की जो तस्वीर बन रही थी वह 30वें मैच तक काफी हद तक बदल गई है. सेमीफाइनल की इस रंग बदलती तस्वीर में पाकिस्तान (Pakistan) की जीत और इंग्लैंड की हार का बड़ा योगदान है. फिलहाल स्थिति यह है कि न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया और भारत तो टॉप-4 की रेस में दमदारी से बढ़ते नजर आ रहे हैं. लेकिन चौथी टीम के लिए मुकाबला रोचक हो गया है. 

सेमीफाइनल की रेस समझने से पहले विश्व कप के प्वाइंट टेबल का हाल जान लें. फिलहाल न्यूजीलैंड (11) पहले, ऑस्ट्रेलिया (10) दूसरे, भारत (9) तीसरे नंबर पर हैं. इंग्लैंड (8) चौथे, श्रीलंका (6) पांचवें और बांग्लादेश (5) व पाकिस्तान (5) संयुक्त रूप से छठे नंबर पर हैं. वेस्टइंडीज (3) आठवें, दक्षिण अफ्रीका (3) नौवें और अपगानिस्तान (0) दसवें नंबर पर हैं. 

यह भी पढ़ें: World Cup 2019: भारत के मैच धुले तो बीमा कंपनियों को लग सकती 100 करोड़ की चपत

स्पष्ट है कि टॉप-4 की रेस में न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया और भारत काफी आगे हैं. वेस्टइंडीज लगभग बाहर है. दक्षिण अफ्रीका और अफगानिस्‍तान पूरी तरह बाहर हैं. सेमीफाइनल खेलने के लिए कम से कम नौ अंक जरूरी होने जा रहे हैं. हालांकि, यह सेमीफाइनल खेलने की गारंटी नहीं है. यह भी संभव है कि 10 अंक भी इसके लिए कम पड़ जाएं. यानी, सेमीफाइनल की चौथी टीम की रेस में इंग्लैंड, श्रीलंका, पाकिस्तान और बांग्लादेश हैं. इसलिए हम यहां सिर्फ इन्हीं चारों टीमों की बात करेंगे. इन चारों ही टीमों के टूर्नामेंट में एक बराबर तीन-तीन मैच बाकी हैं. 

इंग्लैंड के तीनों मैच मुश्किल 
इंग्लैंड के टूर्नामेंट में तीन मैच बाकी हैं. उसके ये मैच ऑस्ट्रेलिया, भारत और न्यूजीलैंड से है. इंग्लैंड फिलहाल दुनिया की नंबर-1 टीम है. वह मेजबान भी है. संभव है कि वह तीनों मैच जीत ले. यह भी संभव है कि वह तीनों मैच हार जाए. बहरहाल, अगर वह दो या तीन मैच जीता, तभी उसका सेमीफाइनल खेलना तय हो पाएगा. अगर वह सिर्फ एक मैच जीता या तीनों हारा तो खेल खत्म समझिए. क्योंकि ऐसा होने पर वह अधिकतम 10 अंक तक पहुंच पाएगा. 

यह भी पढ़ें: World Cup: दक्षिण अफ्रीका की 27 साल की सबसे शर्मनाक हार, अब तो ‘चोकर्स’ भी नहीं कह सकते

पाकिस्तान के दो मैच आसान 
पाकिस्तान को अब न्यूजीलैंड, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से खेलना है. अगर वह न्यूजीलैंड को हराता है तो सेमीफाइनल की रेस में दमदारी से आगे बढ़ सकता है. अगर हम रिकॉर्ड और रैंकिंग की बात करें तो उसे अफगानिस्तान और श्रीलंका को हराने में मुश्किल नहीं होनी चाहिए. अगर वह तीनों मैच जीता तो 11 अंक तक पहुंच सकता है. दो जीतने पर भी उसके नौ अंक हो जाएंगे. ऐसे में अगर इंग्लैंड अपने तीनों मैच हार जाए तो पाकिस्तान का रास्ता खुल जाएगा. 
 

 

श्रीलंका के सामने मुश्किल टीमें 
श्रीलंका को अब भारत, दक्षिण अफ्रीका और वेस्टइंडीज से खेलना है. उसके अभी छह अंक हैं. यानी, अगर वह दो मैच जीते तो उसके 10 अंक हो जाएंगे और वह टॉप-4 की रेस में मजबूती से खड़ा हो जाएगा. लेकिन उसकी फॉर्म और पिछले एक साल के रिकॉर्ड को देखकर ऐसा लगता नहीं कि वह दो मैच जीत पाएगा. यानी, वह भले ही अभी प्वाइंट टेबल में पांचवें नंबर है. लेकिन उसका नंबर-4 तक पहुंचना मुश्किल है. 

बांग्लादेश का एक मैच आसान 
बांग्लादेश अभी पांच अंक के साथ पाकिस्तान की बराबरी पर है. उसे अभी पाकिस्तान, भारत और अफगानिस्तान से खेलना है. यहां रिकॉर्ड और फॉर्म के आधार पर माना जा सकता है कि वह अफगानिस्तान को हरा देगा. लेकिन उसके लिए भारत और पाकिस्तान को हराना आसान नहीं होगा. अगर वह इन दोनों में से किसी एक टीम को भी हराता है तो टॉप-4 की रेस में बना रहेगा. 

तुरुप का पत्ता इंग्लैंड... 
सेमीफाइनल की रेस में इन सारे अगर-मगर के समीकरण में सबसे अहम टीम इंग्लैंड है. अगर इंग्लैंड दो या तीन मैच जीत लेता है तो पाकिस्तान, बांग्लादेश और श्रीलंका तीनों की ही टॉप-4 की उम्मीदों पर पानी फिर जाएगा. अगर वह एक मैच जीता या एक भी नहीं जीता, तो ये तीनों टीमें रेस में बनी रहेंगी. 

Trending news