close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

World Cup 2019: ओवर थ्रो विवाद में नया खुलासा, चौका नहीं लेना चाहते थे स्टोक्स

इंगलैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने कहा है कि बेन स्टोक्स विश्व कप फाइनल के आखिरी ओवर में ओवरथ्रो के चार रन टीम के स्कोर में शामिल नहीं करना चाहते थे.

World Cup 2019: ओवर थ्रो विवाद में नया खुलासा, चौका नहीं लेना चाहते थे स्टोक्स
(फोटो:Reuters)

नई दिल्ली: आईसीसी विश्व कप-2019 (ICC World Cup 2019) फाइनल में इंग्लैंड की जीत के बाद ओवर थ्रो विवाद अभी खत्म नहीं हुआ है. जब इंग्लैंड को 3 गेंदों में 9 रन की जरूरत थी और ओवर की चौथी गेंद पर विवादित ओवरथ्रो के कराण इंग्लैंड को छह रन मिले थे. इंग्लैंड की मैच में वह वापसी का लम्हा था. इसके बाद भी बेन स्टोक्स (Ben Stokes) दो गेंदों पर तीन रन नहीं बना सके थे और मैच टाई हो गया था. इंग्लैंड को यह ओवर थ्रो बेन स्टोक्स के बल्ले से लग कर मिला था जब वे दूसरा रन पूरा करने की कोशिश कर रहे थे. अब इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने दावा किया है कि स्टोक्स ने अंपायरों से ओवर थ्रो के चार रन देने के फैसले को बदलने के लिए कहा था. 

विलियम्सन से माफी भी मांगी थी स्टोक्स ने
 पारी के आखिरी ओवर की चौथी गेंद पर जब स्टोक्स उस गेंद पर दूसरा रन पूरा करने की कोशिश कर रहे थे. डीप मिड विकेट पर खड़े मार्टिन गप्टिल का थ्रो स्टोक्स के बैट से लगा और गेंदर बाउंड्री के पार हो चली गई थी. इसके फौरन बाद स्टोक्स ने न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलय़म्सन से माफी भी मांगी थी. बाद में स्टोक्स ने कहा था कि इसे लेकर मैं केन विलियम्स से अनगिनत बार माफी मांग चुका हूं. मैं ऐसा कुछ नहीं करना चाहता था. बेन स्टोक्स की इस खेल भावना की बहुत तारीफ हुई है.

यह भी पढ़ें: World Cup final: अगर दोनों टीमों के बाउंड्री काउंट भी बराबर होते, तो कैसे होता फैसला

क्या कहा एंडरसन
एंडरसन ने बीबीसी के एक कार्यक्रम में चर्चा करते हुए कहा, अगर स्टंप की ओर फेंकी गई गेंद खिलाड़ी को लगकर बाउंड्री के पार चली जाती है तो नियम के मुताबित चार रन होता है. इसमें बल्लेबाज कुछ नहीं कर सकता. स्टोक्स ने अंपायर के पास जाकर उनसे कहा था कि वे चार रन वापस ले सकते हैं. उन्हें इसकी जरूरत नहीं है. चूंकि यह नियमों में शामिल है इसलिए स्टोक्स इस मामले में कुछ नहीं कर सकते थे.

यह भी पढ़ें: World Cup 2019: खिताब से चूकने के दो दिन बाद बोले विलियम्सन- पता नहीं था ‘वह’ नियम

क्या था यह विवाद
मैच के बाद ऑस्ट्रेलिया के पू्र्व अंपायर साइमन टॉफेल ने इस मामले पर एक नियम का हवाला देते हुए बताया था कि चूंकि गप्टिल के थ्रो करते समय स्टोक्स और आदिल राशिद क्रॉस नहीं हुए थे. इसलिए ओवरथ्रो में दूसरा रन नहीं जोड़ा जाना चाहिए था. उस समय अंपायरों ने आपस में चर्चा करके छह रन इंग्लैंड को दिए थे. टॉफेल के मुताबिक अंपायरों को उस समय छह नहीं बल्कि पांच रन देने चाहिए थे.