close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अधीर रंजन चौधरी होंगे लोकसभा में कांग्रेस के नेता, कहा- मैं पार्टी का सिपाही

कांग्रेस को इस बार के लोकसभा चुनाव में सिर्फ 52 सीटें मिली हैं जो नेता प्रतिपक्ष का दर्जा प्राप्त करने के लिए जरूरी संख्या से कम है. 

अधीर रंजन चौधरी होंगे लोकसभा में कांग्रेस के नेता, कहा- मैं पार्टी का सिपाही
अधीर रंजन चौधरी पश्चिम बंगाल से पांच बार से सांसद हैं. वह 1999 के बाद से एक बार भी चुनाव नहीं हारे हैं.

नई दिल्ली: कांग्रेस की ओर से पश्चिम बंगाल से पार्टी सांसद अधीर रंजन चौधरी लोकसभा में पार्टी के नेता हो सकते हैं. पार्टी सूत्रों की मानें तो, कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व ने अधीर रंजन चौधरी के नाम पर मुहर लगा दी है. हालांकि, कांग्रेस ने सदन में पार्टी के नेता को लेकर कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है. न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत में चौधरी ने कहा कि लोकसभा में कांग्रेस नेता की जिम्मेदारी मुझे दी गई है. उन्होंने कहा कि पार्टी ने मुझसे आगे आकर खड़े होने को कहा है और मैंने इस पर सहमति जता दी है. 

अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि मैं कांग्रेस का पहली पंक्ति में खड़ा होने वाला पैदल सिपाही हूं. मैं पार्टी के लिए एक सैनिक के रूप में लड़ता रहूंगा. बता दें कि अधीर रंजन चौधरी पश्चिम बंगाल से पांच बार से सांसद हैं. वह 1999 के बाद से एक बार भी चुनाव नहीं हारे हैं. वह फिलहाल मुर्शिदाबाद जिले की बहरामपुर लोकसभा सीट का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं. चौधरी पश्चिम बंगाल विधानसभा का सदस्य रहने के साथ पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष भी रह चुके हैं. वहीं, कांग्रेस को इस बार के लोकसभा चुनाव में सिर्फ 52 सीटें मिली हैं जो नेता प्रतिपक्ष का दर्जा प्राप्त करने के लिए जरूरी संख्या से कम है. 

वहीं, कांग्रेस नेता और संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मंगलवार को लोकसभा सदस्य के तौर पर शपथ ली. इस दौरान भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद 'जय श्री राम' और 'भारत माता की जय' के नारे लगाते रहे. उत्तर प्रदेश से लोकसभा पहुंचीं कांग्रेस की एकमात्र नेता सोनिया गांधी ने हिंदी में शपथ ली. उनके बेटे और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने मोबाइल में इसका वीडियो रिकॉर्ड कर लिया. वे जब अपनी सीट पर लौट रही थीं, तो भाजपा के कुछ सदस्यों ने व्यंगात्मक लहजे में कहा, "हिंदी में शपथ लेने के लिए धन्यवाद." सोनिया जब अपनी सीट पर पहुंचीं तो कांग्रेस के अन्य सांसद उनके सम्मान में खड़े हो गए.

17वीं लोकसभा के पहले सत्र में नवनिर्वाचित सांसदों को सदन के सदस्य की शपथ दिलाई जा रही है. मंगलवार को भी सांसदों द्वारा शपथ ली जा रही है. इस दौरान उन्नाव लोकसभा क्षेत्र से बीजेपी के सांसद साक्षी महाराज ने भी शपथ ली. साक्षी महाराज ने संस्कृत में शपथ ली. उनसे पहले भी कई सांसदों ने संस्कृत में शपथ ली थी. वहीं, साक्षी महाराज के शपथ लेने के दौरान कुछ सांसदों ने 'मंदिर वहीं बनाएंगे' के नारे लगाए. साक्षी महाराज ने शपथ ग्रहण के बाद 'जय श्री राम' का नारा लगाया. 

इससे पहले समाजवादी पार्टी के संभल से सांसद शफीकुर्ररहमान बर्क ने विवादित बयान दिया है. दरअसल, संसद में सांसद के रूप में शपथ ग्रहण के लिए जब वह बढ़े तो सत्‍ता पक्ष की तरफ से वंदे मातरम् के नारे लगे. इस पर शपथ लेने के बाद उन्‍होंने कहा कि वंदे मातरम् इस्‍लाम के खिलाफ है. इसके साथ ही उन्‍होंने कहा- संविधान जिंदाबाद. हालांकि बीजेपी सांसदों ने वंदे मातरम् नहीं कहने पर 'शेम शेम' के नारे भी लगाए.