शहीद अरशद खान के परिवार से मि‍ले अमित शाह, पत्‍नी को सौंपा सरकारी नौकरी का पत्र

अमित शाह ने अरशद की पत्नी और पिता से मुलाक़ात की. उन्‍होंने परिवार को आश्वासन दिया कि देश की जनता और सरकार उनके साथ खड़ी है.

शहीद अरशद खान के परिवार से मि‍ले अमित शाह, पत्‍नी को सौंपा सरकारी नौकरी का पत्र

श्रीनगर: गृहमंत्री अमित शाह ने श्रीनगर के दौरे के दूसरे दिन गुरुवार को जम्मू कश्मीर पुलिस के शहीद एसएचओ अरशद खान के परिवार से मुलाकात की. खान अनंतनाग फिदायीन हमले में शहीद हो गए थे. केंद्रीय गृह मंत्री कश्‍मीर के अपने पहले दौरे पर हैं. उन्‍होंने कश्मीर में पुलिस के शहीद के परिवार के घर का दौरा किया है. अमित शाह ने शहीद की पत्नी को सरकारी नौकरी का नियुक्तिपत्र भी सौंपा.

अमित शाह शहीद अरशद के घर सुबह क़रीब 9.15 पर पहुंचे. उनके साथ ग्रह मंत्रालय के कई बड़े अधिकारी थे. अमित शाह ने अरशद की पत्नी और पिता से मुलाक़ात की. उन्‍होंने परिवार को आश्वासन दिया कि देश की जनता और सरकार उनके साथ खड़ी है. अमि‍त शाह के इस क़दम का घाटी के राजनीतिक दलों ने स्वागत किया है. साथ ही यह भी बोला कि उमीद है की गृहमंत्री के तरफ़ से ऐसी कोई घोषणा होगी जो हालातों को शांत करेगा. नेशनल कॉन्‍फ्रेंस के प्रवक्ता इमरान नबी डार ने कहा “गृहमंत्री का एक शहीद के घर जाना का क़दम का स्वागतयोग्य है.” लेकिन उन्हें कोई पॉज़िटिव घोषणा भी करनी चाहिए. राज्य में चुनाव करवाने ज़रूरी हैं. कश्मीर का राजनीतिक हल खोजने की ज़रूरत है.

बता दें कि‍ 12 जून को, अनंतनाग में सुरक्षाबलों के गश्ती दल पर फिदायीन हमला हुआ था, जिसमें 5 सीआरपीएफ जवान शहीद हुए थे. अरशद खान इस हमले में घायल हो गए थे. बाद में उन्हें दिल्ली के एम्स अस्पताल लिया गया था जहां उनका निधन हो गया था. अरशद खान ने अपनी जान देकर ना सिर्फ साथियों की जान बचाई बल्कि फ़िदायीन हमलावर को भी ढेर कर दिया था.