मप्र मेडिकल लैब टेक्निशियन एसोसिएशन ने कहा, सरकार ने वादा पूरा नहीं किया तो करेंगे आंदोलन

एसोसिएशन के अध्यक्ष विनीत दुबे ने बताया कि साल 2018 के विधानसभा चुनाव के वक्त वादा किया गया था कि लैब टेक्निशियनों को जांच रिपोर्ट को सत्यापित करने का अधिकार दिया जाएगा. कमलनाथ सरकार को बने हुए एक साल का समय गुजर चुका है लेकिन मांग वादे को पूरा नहीं किया गया है.

मप्र मेडिकल लैब टेक्निशियन एसोसिएशन ने कहा, सरकार ने वादा पूरा नहीं किया तो करेंगे आंदोलन
मध्‍य प्रदेश मेडिकल लैब टेक्निशियन एसोसिएशन ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि सीएम कमलनाथ उनकी मांगें पूरी करें.

भोपाल: मध्‍य प्रदेश मेडिकल लैब टेक्निशियन एसोसिएशन ने कहा है कि अगर राज्य सरकार ने लैब टेक्निशियन को जांचों के सत्‍यापन का अधिकार नहीं दिया तो वे आंदोलन करेंगे. गुरुवार को एसोसिएशन के अध्यक्ष विनीत दुबे ने बताया कि सरकार खुद आशा एवं आंगनबाड़ी कर्मचारियों की मदद से जांच करवाती है. जबकि हम डिग्रीधारी लोगों को इन जांचों के प्रमाणीकरण के लिए अवैध मानती है.

उन्होंने कहा कि लैब टेक्निशियन को जांचों के सत्‍यापन का अधिकार दिया जाए. एसोसिएशन ने अपनी मांगों को लेकर मुख्यमंत्री कमलनाथ को ज्ञापन भी दिया था. एसोसिएशन के अध्यक्ष विनीत दुबे ने बताया कि साल 2018 के विधानसभा चुनाव के वक्त वादा किया गया था कि लैब टेक्निशियनों को जांच रिपोर्ट को सत्यापित करने का अधिकार दिया जाएगा. कमलनाथ सरकार को बने हुए एक साल का समय गुजर चुका है लेकिन मांग वादे को पूरा नहीं किया गया है. लैब टेक्नीशियन एसोसिएशन ने कहा है कि अगर जल्द से जल्द मांग पूरी नहीं की गई तो वे लोग आंदोलन करेंगे.

उन्होंने बताया कि इसी मांग को लेकर एसोसिएशन के पदाधिकारी राज्य के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री तुलसीराम सिलावट को भी ज्ञापन दिया है. एसोसिएशन के उपाध्‍यक्ष ब्रजेश गोस्वामी ने बताया कि विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने अपने वचन पत्र में निजी क्षेत्र की पैथोलॉजिकल जांचों के प्रमाणीकरण को लैब टैक्नीशियन द्वारा सत्यापित करने का वचन दिया था. 

उन्होंने कहा कि सरकार की इस पहल से मध्‍य प्रदेश के 80 से 85 हजार मेडिकल लैब टैक्‍नीशियन को स्‍वरोजगार दिला सकती है. इस कदम से प्रदेश के दूरदराज इलाकों में सामान्य पैथोलॉजिकल जांचों की सुविधा उपलब्ध होगी.

मुख्‍यमंत्री कमलनाथ को ज्ञापन देने वाले में एसोसिएशन के प्रदेश उपाध्यक्ष ब्रजेश गोस्वामी, सचिव संजय श्रीवास्तव, भोपाल जिला अध्यक्ष अश्वनी कुशवाहा एवं इरफान खान शामिल थे.