जम्मू कश्मीर: पाकिस्तान ने फिर किया सीजफायर का उल्लंघन, भारतीय सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब

जम्मू के अखनूर सेक्टर से लेकर कश्मीर घाटी के तंगधार-केरन सेक्टर में भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में पिछले 3 दिनों में 10 पाकिस्तानी सैनिक मारे जा चुके हैं 

जम्मू कश्मीर: पाकिस्तान ने फिर किया सीजफायर का उल्लंघन, भारतीय सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब
हरकतों से बाज नहीं आ रहा पाकिस्तान

जम्मू कश्मीर: पाकिस्तान ने एक बार फिर सीजफायर का उल्लंघन किया है. पाकिस्तानी सेना ने शुक्रवार रात हीरानगर सेक्टर और शनिवार सुबह मेंढर-पुंछ के कृष्णाघाटी सेक्टर में सीजफायर का उल्लंघन किया और सेना और रिहाइशी ठिकानों पर मोर्टार बरसाए. हालांकि भारतीय सेना से इसका मुंहतोड़ जवाब दिया. बता दें कि जम्मू के अखनूर सेक्टर से लेकर कश्मीर घाटी के तंगधार-केरन सेक्टर में भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में पिछले 3 दिनों में 10 पाकिस्तानी सैनिक मारे जा चुके हैं और कई चौकियां ध्वस्त हो चुकी हैं. 

साल 2019 में पाकिस्तानी सेना ने 3200 से अधिक बार सीजफायर तोड़ा है. अकेले दिसंबर में ही पाकिस्तान ने अभी तक 331 बार सीजफायर का उल्लंघन किया है. जम्मू कश्मीर के यूनियन टेरिटरी बनने के बाद अगस्त से 28  दिसंबर तक पाकिस्तान ने 1585 बार सीजफायर तोड़ा है. नौशेरा के स्थानीय पूर्व विधायक रविंदर रैना का कहना है कि सेना, पाकिस्तान की हरकतों का मुंहतोड़ जवाब दे रही है. वहीं सरहदी इलाकों में रहने वाले लोगों ने केंद्र सरकार से मांग की है कि वह बंकर की संख्या बढ़ाए. बीजेपी के सीनियर नेता और पूर्व डिप्टी सीएम कविंदर गुप्ता का कहना है कि पाकिस्तान की हरकतों का सेना पूरी तरह से जवाब दे रही है.

बता दें कि जम्मू कश्मीर में पाकिस्तान ने 2018 में 1629  बार सीजफायर तोड़ा था, लेकिन 2019 में ये आंकड़ा दोगुना होकर 3200 पहुंच गया है. पाकिस्तान की तरफ से सीजफायर का उल्लंघन रुकने का नाम नहीं ले रहा है. शुक्रवार को लगभग पूरी एलओसी पर भारत और पाकिस्तान की तरफ से फायरिंग होती रही. आंकड़ों की मानें तो इस साल अब तक पाकिस्तान की तरफ से करीब 3200 बार सीजफायर का उल्लंघन हो चुका है, जो पिछले साल यानी 2018 के मुकाबले पूरा दुगना है.

भारतीय सेना के सूत्रों की मानें तो एलओसी के अखनूर, पूंछ, कृष्णाघाटी, उरी और नीलमघाटी से सटे केरन में रूक रूक कर फायरिंग हो रही है. लेकिन भारतीय सेना पाकिस्तानी सेना की तरफ से हो रहे युद्धविराम का मुंहतोड़ जवाब दे रही है. सूत्रों की मानें तो भारत की जवाबी कारवाई में पाकिस्तान को भारी नुकसान उठाना पड़ा है.  

ये भी देखें-