जम्मू कश्मीर में 3 आतंकी ढेर, लोगों ने सुरक्षाबलों पर किया पथराव

सुबह से जारी मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने पहले दो आतंकियों को मार गिराया. सुरक्षाबलों को आशंका थी कि पीछे के इलाकों में दो से तीन और आतंकी छिपे हो सकते हैं. इस ऑपरेशन में 4 जवान घायल हुए.

जम्मू कश्मीर में 3 आतंकी ढेर, लोगों ने सुरक्षाबलों पर किया पथराव
फाेटो : एएनआई

श्रीनगर : जम्मू एंड कश्मीर के पुलवामा जिले के त्राल में सुरक्षा बलों ने तीन आतंकी एक एक कर ढेर कर दिए. गुरुवार सुबह से ही सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ जारी थी. सुबह से जारी मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने पहले दो आतंकियों को मार गिराया. सुरक्षाबलों को आशंका थी कि पीछे के इलाकों में दो से तीन और आतंकी छिपे हो सकते हैं. इस ऑपरेशन में 4 जवान घायल हुए.

आतंकियों को बचाने के लिए स्थानीय लोगों ने सुरक्षाबलों पर पथराव भी किया, लेकिन सुरक्षाबलों ने तीनाें आतंकियों को ढेर कर दिया. पुलिस अधिकारी ने कहा कि त्राल क्षेत्र के गुलशन पोरा गांव में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने तलाशी अभियान शुरू कर दिया. एक पुलिस अधिकारी ने कहा, "छिपे हुए आतंकवादियों ने घेराबंदी देखकर सुरक्षा बलों पर गोलीबारी शुरू कर दी जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई, जो अभी जारी है."

जैश कमांडर को पकड़ने के लिए घाटी में बड़े पैमाने पर छेड़ा गया तलाशी अभियान

सेना के एक अधिकारी ने बताया कि सुरक्षाबलों ने जंगलों में कम से कम दो आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना पर त्राल के पहाड़ी इलाकों में आतंकवाद रोधी अभियान शुरू किया. अधिकारी ने बताया कि जंगल में छिपे आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी शुरू कर दी जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई. अधिकारी ने बताया, ‘अभियान में तीन आतंकवादियों को मार गिराया गया जबकि एक सैनिक घायल हो गया.’ उन्होंने बताया कि आगे की जानकारी की प्रतीक्षा की जा रही है. मारे गये आतंकवादियों की पहचान की जा रही है और वह किस आतंकवादी संगठन से जुड़े थे इसकी जानकारी जुटायी जा रही है.

पिछले एक दशक में सबसे ज्यादा आतंकी इस साल ढेर
कश्मीर में पिछले वर्ष 276 आतंकियों के मारे गए हैं. पिछले एक दशक में आतंकियों को ढेर किए जाने का ये सबसे बड़ा आंकड़ा है. इस अभियान के कारण घाटी में आतंक की जड़ें काफी कमजोर हुई हैं. पुलिस रिकॉर्ड के मुताबिक कश्मीर घाटी में अब भी 230 आतंकी सक्रिय है और दक्षिण से लेकर उत्तरी कश्मीर के विभिन्न इलाकों में छुपाए है.