close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कारगिल युद्ध की 20वीं वर्षगांठ : बीएसएफ ने दी शहीदों को श्रदांजलि

श्रीनगर के कश्मीर जोन के बीएसएफ के मुख्यालय में एक समारोह में अफसरों और जवानों ने मंगलवार को कारगिल युद्ध की 20वीं वर्षगांठ पर शहीदों को श्रदांजलि अर्पित की.

कारगिल युद्ध की 20वीं वर्षगांठ : बीएसएफ ने दी शहीदों को श्रदांजलि
बीएसएफ मानती है कि आज बभी कारगिल युद्धा फौज के जवानों की प्रेरणा है, उनका हौसला बढ़ती है.

श्रीनगर: श्रीनगर के कश्मीर जोन के बीएसएफ के मुख्यालय में एक समारोह में अफसरों और जवानों ने मंगलवार को कारगिल युद्ध की 20वीं वर्षगांठ पर शहीदों को श्रदांजलि अर्पित की. 'वीर योद्धा अमर रहे' के नारों के बीच शहीद मेमोरियल पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए. 

बीएसएफ के कश्मीर जोन के आईजी अभिनव कुमार ने कहा "कारगिल युद्ध में जो विजय मिली थी, हमारी सेना को उसी क्रम में अलग-अलग समारोह आयोजित किए जा रहे हैं. गृह मंत्रालय की ओर से विजय दिवस सप्ताह मनाया जा रहा है. आज हमने श्रद्धांजलि का आयोजन किया. इस तरह हम देश को याद दिलाना चाहते हैं कि कारगिल का युद्ध कितना मेहतपूर्ण था और उसमें हमारे जवानों ने किस प्रकार से कुर्बानियां दीं."  

बीएसएफ ने यह भी दोहराया कि कारगिल युद्ध से पहले बीएसएफ के पेट्रोलिंग दल को पाकिस्तानी घुसपैठियों की सूचना मिली थी और सेना से उसे साझा करते हुए करवाई हुई थी. इस तरह बीएसएफ का कारगिल युद्ध में योगदान रहा था. आईजी ने कहा, "बीएसएफ के हर अफसर हर जवान को यह कहते फख होता है कि शुरुआत के चरणों में जो अहम जानकारी फौज तक लाइ गई, उसमें बीएसएफ का अहम रोल था."  

बीएसएफ मानती है कि आज बभी कारगिल युद्धा फौज के जवानों की प्रेरणा है, उनका हौसला बढ़ती है. आईजी अभिनव कुमार ने कहा "वो शहीद हों, विक्रम बत्रा हो, सैकड़ों ऐसी शहादत की कहानियां हैं कुरबानी की जो आज भी फौज में काम कर रही हैं, उनकी हौसला अफ़ज़ाई कर रही हैं." 

 

जवानों ने शहीदों को सलामी देकर उन्हें याद किया और प्राण लिया कि उन शहीदों की शहादत को हमेशा याद रखा जाएगा. बीएसाएफ के जवान पटेल ने कहा "हमें उन जवानों के शदत से प्रेरणा मिली है, वक्त पड़ने पर हम अपनी जान देश पर न्यौछावर करेंगे."  एक और जवान ओपी वर्मा कहते हैं, "देश प्रथम है, कारगिल युद्ध में हमारे जवान शहीद हुए उसका हम को दुःख है मगर उन्होंने देश का सिर ऊंचा किया और वो हमारी प्रेरणा हैं."