अंतरिम बजट की कोई कीमत नहीं, मोदी सरकार की हताशा का संकेत: ममता बनर्जी

ममता बनर्जी ने कहा, 'बजट में कुछ भी ठोस नहीं है...यह सब कुछ केवल वोटों को पाने के लिए किया गया है. सत्ता में बने रहने के लिए यह हताशा का संकेत है.' 

अंतरिम बजट की कोई कीमत नहीं, मोदी सरकार की हताशा का संकेत: ममता बनर्जी
मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा,‘चुनाव के मद्देनजर बजट में रखे गये प्रस्ताव कुछ भी नहीं है और वोट बैंक को लक्ष्य रखा गया है. (फोटो साभार - ANI)

कोलकाता: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आम चुनाव से पहले अंतरिम बजट में कई लोकलुभावन प्रस्तावों की घोषणा करने के लिए शुक्रवार को केन्द्र की आलोचना की और कहा कि इन घोषणाओं की कोई कीमत नहीं है और यह हताशा का एक संकेत है. ममता बनर्जी ने कहा, 'बजट में कुछ भी ठोस नहीं है...यह सब कुछ केवल वोटों को पाने के लिए किया गया है. सत्ता में बने रहने के लिए यह हताशा का संकेत है.' 

तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ने कहा,‘अपने अंतरिम बजट में कोई भी सरकार लोकसभा चुनाव से पहले पूर्ण योजनाएं नहीं ला सकती है. इसलिए अंतरिम बजट में की गई इन घोषणाओं की बिल्कुल भी कोई कीमत नहीं है.’ 

'कौन इस (अंतरिम बजट) को लागू करेगा'
उन्होंने कहा,‘कौन इस (अंतरिम बजट) को लागू करेगा. क्या इस बजट को लागू करने के लिए नई सरकार सामने आएगी. चुनाव से पहले एक लेखानुदान रखा जाता है.’ मुख्यमंत्री ने कहा,‘चुनाव के मद्देनजर बजट में रखे गये प्रस्ताव कुछ भी नहीं है और वोट बैंक को लक्ष्य रखा गया है. इसके साथ ही सरकार का कार्यकाल जल्द ही खत्म हो जायेगा.’ ममता बनर्जी ने मोदी सरकार पर सत्ता का दुरुपयोग करने, झूठे वादे करने तथा मतदाताओं को झूठे आश्वासन देने के आरोप लगाए. 

(इनपुट - भाषा)