ममता ने रैली में कहा- ‘दिल्ली में सरकार बदल दो’, बीजेपी बोली-महागठबंधन फर्जी

कोलकाता में शनिवार को महागठबंधन की रैली में सबके निशाने पर पीएम मोदी रहे, इसके जवाब में बीजेपी ने इस अवसरवादी गठबंधन बताया.

ममता ने रैली में कहा- ‘दिल्ली में सरकार बदल दो’, बीजेपी बोली-महागठबंधन फर्जी

कोलकाता/नई दिल्ली : देश की राजनीति के लिहाज से शनिवार का दिन काफी गहमागहमी वाला रहा. कोलकाता में महागठबंधन की एक बड़ी रैली का आयोजन किया गया. इसमें विपक्ष के सभी बड़े नेता शामिल हुए. सभी के निशाने पर पीएम मोदी रहे. तृणमूल कांग्रेस प्रमुख एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ‘दिल्ली में सरकार बदल दो’ की अपील करते हुए कहा कि मोदी सरकार की ‘एक्सपायरी डेट’ खत्म हो गई है. उन्होंने यह भी कहा कि एकजुट विपक्ष आगामी आमचुनाव में जीत हासिल करेगा. भाजपा के वरिष्ठ नेता शहनवाज हुसैन ने ‘महागठबंधन’ पर हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा का नेतृत्व ‘लीडर (नेता)’ कर रहे हैं जबकि महागठबंधन का नेतृत्व ‘डीलर’ (सौदा कराने वाला कारोबारी) कर रहे हैं.

ममता ने यहां ब्रिगेड परेड मैदान में आयोजित रैली में अन्य विपक्षी दलों के साथ मिल कर काम करने का भी वादा किया. उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री कौन होगा, यह हम चुनाव के बाद तय करेंगे.’ ममता ने दावा किया कि केंद्र में भाजपा के गिने-चुने दिन ही बचे रह गए हैं. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की ‘एक्सपायरी डेट’ खत्म हो गई है. मुख्यमंत्री ने इस बात का जिक्र किया कि देश में मौजूदा हालात ‘‘सुपर इमरजेंसी’’ के हैं और उन्होंने नारा दिया ‘‘बदल दो, बदल दो, दिल्ली में सरकार बदल दो.’ उन्होंने भाजपा की आलोचना करते हुए कहा, ‘राजनीति में शिष्टता होती है, लेकिन भाजपा इसका पालन नहीं करती. जो लोग भाजपा के साथ नहीं हैं, उन्हें चोर बता दिया जाता है.’

महागठबंधन पर PM मोदी का हमला, 'जब ये लोकतंत्र की बात करते हैं तो देश कहता है 'वाह क्या बात है'

ममता ने यह दावा भी किया कि भाजपा अपने वरिष्ठ नेताओं का सम्मान नहीं करती और राजनाथ सिंह, सुषमा स्वराज तथा नितिन गडकरी जैसे लोगों की भगवा पार्टी ने अनदेखी की है. उन्होंने कहा, ‘मोदी और उनके सहयोगी अब सामूहिक नेतृत्व की बातें कर रहे हैं लेकिन यदि भाजपा (आगामी) लोकसभा चुनाव जीत जाती है तो इन नेताओं को फिर से नजरअंदाज किया जाएगा.’

महागठबंधन फर्जी है, मोदी के नेतृत्व में भाजपा को नहीं हरा सकते : शाहनवाज हुसैन
शाहनवाज हुसैन ने कहा कि विपक्षी गठबंधन वैसे नेताओं से बना हुआ है जिसमें सभी खुद ही प्रधानमंत्री बनना चाहते हैं. उन्होंने यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, ‘महागठबंधन पूरी तरह से फर्जी है. वह भाजपा को नहीं हरा सकते हैं, क्योंकि इसमें शामिल कई नेता खुद अगला प्रधानमंत्री बनना चाहते हैं. यह तो एकता का दिखावा है.'

कांग्रेस पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास लोकसभा चुनाव में अमेठी से (राहुल गांधी की सीट) और रायबरेली (सोनिया गांधी की सीट) बिना बसपा और सपा की मदद लिए हुए चुनाव लड़ने का माद्दा होना चाहिए. उत्तर प्रदेश में सपा और बसपा साथ मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं, जबकि कांग्रेस इस गठबंधन का हिस्सा नहीं है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा करते हुए हुसैन ने कहा, ‘प्रधानमंत्री दुनिया भर में सबसे ज्यादा लोकप्रिय नेता हैं और दूरदर्शी हैं. भाजपा के पास सर्वश्रेष्ठ नेता हैं. हमारे विपक्ष के पास लीडर नहीं है, उनके पास सिर्फ डीलर हैं.' उन्होंने कहा कि राजग एक बार फिर प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में सत्ता में आएगा. सिर्फ ‘भ्रष्ट’ ही ‘मजबूर’ सरकार की इच्छा रखेंगे.

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कांग्रेस राफेल लड़ाकू विमान को लेकर हमला बोलते हुए दावा किया कि विपक्षी पार्टी ऐसे व्यवहार कर रही है जैसे वह उच्चतम न्यायालय से भी ऊपर हैं. उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और कोलकाता में आयोजित रैली पर भी निशाना साधा. हुसैन ने कहा, ‘ममता बनर्जी की रैली में कुछ वक्ताओं ने नक्सलियों का समर्थन किया. कुछ ने उन लोगों को समर्थन देने की बात कही जिन्हें देशद्रोह के आरोप में गिरफ्तार किया.' उन्होंने कहा कि भाजपा भविष्य में पश्चिम बंगाल सहित पूरे देश में लोकसभा चुनाव में जीत हासिल करेगी.
input : Bhasha