close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

एयर स्‍ट्राइक पर नवजोत सिंह सिद्धू ने पूछा, PoK में 300 आतंकी मारे या पेड़ गिराये?

एयर स्‍ट्राइक पर नवजोत सिंह सिद्धू ने फिर की विवादित टिप्‍पणी. बीजेपी नेता नकवी ने कहा कि चोट आतंकवादियों काे लगी है, चीख कांग्रेस की निकल रही है.

एयर स्‍ट्राइक पर नवजोत सिंह सिद्धू ने पूछा, PoK में 300 आतंकी मारे या पेड़ गिराये?
कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने उठाए सवाल. फाइल फोटो

नई दिल्‍ली : पाकिस्तान अधिकृत कश्‍मीर (पीओके) में भारतीय वायुसेना की ओर से जैश-ए-मोहम्‍मद के आतंकी ठिकानों पर की गई एयर स्‍ट्राइक पर कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने फिर विवादित टिप्‍पणी की है. सोमवार को उन्‍होंने ट्वीट करके सवाल किया, 'पीओके में 300 आतंकी मारे गए, हां या ना? उन्‍होंने लिखा कि एयर स्‍ट्राइक का मकसद क्‍या था? क्‍या आपने आतंकी मारे या पेड़ गिराये? क्‍या यह चुनावी हथकंडा है?' उन्‍होंने कहा कि सेना का राजनीतिकरण करना बंद किया जाए.

 

 

वहीं कांग्रेस नेता कपिल सिब्‍बल ने भी सोमवार को इस मुद्दे पर सवाल उठाए. उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अंतरराष्‍ट्रीय मीडिया की उन रिपोर्ट पर जवाब देना चाहिए, जिनमें यह कहा गया कि भारतीय वायुसेना की बालाकोट में की गई एयर स्‍ट्राइक में शायद ही कोई मारा गया. उन्‍होंने कहा, 'मैं पीएम मोदी से पूछना चाहता हूं कि क्‍या अंतरराष्‍ट्रीय मीडिया पाकिस्‍तान के समर्थन में है? जब भी अंतरराष्‍ट्रीय मीडिया पाकिस्‍तान के खिलाफ बोलती है तो आप खुश होते हैं. क्‍या जब वे सवाल पूछते हैं तो क्‍या वे पाकिस्‍तान का समर्थन कर रहे होते हैं?'

बता दें कि पाकिस्‍तान अधिकृत कश्‍मीर (पीओके) में जैश-ए-मोहम्‍मद के आतंकी ठिकानों पर भारतीय वायुसेना की ओर से गई एयर स्‍ट्राइक पर सोमवार को वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने भी प्रेस कॉन्‍फ्रेंस की. इस दौरान उन्‍होंने साफतौर पर कहा 'हमारा काम आतंकी ठिकानों को तबाह करना है, हमारा काम उनके शवों की गिनती करना नहीं है. यह काम सरकार का है.' 

हमारा काम आतंकियों के ठिकाने तबाह करना है, उनके शव गिनना नहीं : वायुसेना प्रमुख
वायुसेना प्रमुख ने सोमवार को की प्रेस कॉन्‍फ्रेंस. फोटो ANI

वायुसेना प्रमुख ने सोमवार को इस एयर स्‍ट्राइक पर सवाल उठाने वालों पर भी निशाना साधते हुए कहा कि अगर हम कोई लक्ष्‍य साधते हैं, तो हम उसे तबाह कर देते हैं. अगर ऐसा नहीं होता तो पाकिस्‍तानी प्रधानमंत्री इमरान खान इस एयर स्‍ट्राइक पर प्रतिक्रिया क्‍यों देते. अगर हम लोगों ने जंगलों पर बम गिराये होते तो इमरान खान प्रतिक्रिया क्‍यों देते.

चोट आतंकियों को लगी, चीख कांग्रेस की निकल रही : नकवी
पाकिस्तान के बालाकोट आतंकी अड्डे पर वायुसेना की कार्रवाई को लेकर सियासी घटनाक्रम में कांग्रेस पर निशाना साधते हुए केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने सोमवार को आरोप लगाया कि चोट आतंकवादियों एवं उनके प्रायोजकों पर लगी है, चीख कांग्रेस एवं उनके साथियों की निकल रही है. बीजेपी के वरिष्ठ नेता नकवी ने कहा कि आज जब देश अपने सुरक्षा बलों के शौर्य एवं पराक्रम को सलाम कर रहा है, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की राष्ट्रीय सुरक्षा पर मजबूत राष्ट्रवादी इच्छा शक्ति का स्वागत कर रहा है, ऐसे समय में कांग्रेस एवं उसके कुछ साथी इस आतंकवाद विरोधी अभियान पर पलीता लगाने का काम कर रहे हैं.

उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘चोट आतंकवादियों और उनके प्रायोजकों पर लगी है, चीख कांग्रेस एवं उनके साथियों की निकल रही है. ये इत्तेफाक है या जुगलबंदी.. यह तो वक्त ही बताएगा.’’ नकवी ने जोर दिया कि एक तरफ पाकिस्तान सबूत मांग रहा है तो दूसरी तरफ कांग्रेस एवं उसके कुछ साथी भी उसकी ही भाषा बोल रहे हैं. 

भाजपा नेता ने कहा कि कांग्रेस की स्थिति आज देश के सामने है. प्रियंका वाड्रा और राहुल गांधी का अभियान पीटा शो साबित हो रहा है. ये कभी देश की सुरक्षा पर सवाल उठा रहे हैं तो कभी अपने ही क्षेत्र (अमेठी) के विकास पर बवाल खड़ा कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि आज कांग्रेस एवं विपक्ष के कुछ गुमराह साथी जिस तरह का सवाल खड़ा कर रहे हैं, ये कोई नई बात नहीं है. अटलजी के समय में भी जब हमारे सुरक्षा बलों ने करगिल में आतंकवादियों का सफाया किया था तब भी ऐसे ही सवाल उठाये गए थे. कांग्रेस पार्टी उसी विरासत को आगे बढ़ा रही है.