close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महाराष्ट्रः बाढ़ पीड़ितों की मदद करेगा शिरडी साईंबाबा ट्रस्ट, 10 करोड़ की सहायता राशि का किया ऐलान

शिरडी साईं बाबा ट्रस्ट द्वारा दी जा रही यह राशि 17 अगस्त तक कोल्हापूर और सांगली कलेक्टर के पास एक-एक करोड़ जमा करा दी जाएगी. 

महाराष्ट्रः बाढ़ पीड़ितों की मदद करेगा शिरडी साईंबाबा ट्रस्ट, 10 करोड़ की सहायता राशि का किया ऐलान
पश्चिमी महाराष्ट्र के कई जिले इन दिनों भीषण बाढ़ की चपेट में हैं.

शिरडीः महाराष्ट्र में बीते कुछ दिनों से हो रही लगातार बारिश के चलते मची तबाही से अब तक कई 30 से भी ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है, जबकि कई लोग इस बारिश से बेघर हो गए तो कइयों की पूरी ग्रहस्थी उजड़ गई. ऐसे में सांगली और कोल्हापूर बाढ़ पिडितों की मदद के लिए शिरडी साईंबाबा संस्थान आगे आया है. शिरडी साईंबाबा ट्रस्ट ने सांगली और कोल्हापुर के बाढ़ पीड़ितों के लिए 10 करोड़ कि सहायता राशि का ऐलान किया है, जिसके बाद बॉम्बे हायकोर्ट ने भी ट्रस्ट को इसकी अनुमति दे दी है.

बता दें शिरडी साईंबाबा संस्थान ने बाढ़ पीड़ितों की आर्थिक मदद के लिए बॉम्बे हाईकोर्ट से अनुमति मांगी थी, जिस पर अब हाईकोर्ट ने ट्रस्ट को 10 करोड़ की आर्थिक मदद के साथ ही 2 करोड़ की अतिरिक्त मदद की अनुमति बॉम्बे हाईकोर्ट ने दी है. बता दें शिरडी साईंबाबा संस्थान बाढ़ पीड़ितों के लिए जो राशि देगा वह मुख्यमंत्री सहायता कोष में जामा होगा. वहीं 2 करोड़ की अतिरिक्त राशि सांगली और कोल्हापुर के कलेक्टर के पास जमा होगी. यह राशि सैनिटरी सामग्री खरीदने के लिए उपलब्ध कराई जाएगी.

देखें लाइव टीवी

महाराष्‍ट्र, मप्र, केरल और कर्नाटक में बारिश का कहर, बाढ़ से 26 की मौत

शिरडी साईं बाबा ट्रस्ट द्वारा दी जा रही यह राशि 17 अगस्त तक कोल्हापूर और सांगली कलेक्टर के पास एक-एक करोड़ जमा करा दी जाएगी. बता दें इससे पहले शिरडी साईबाबा संस्थान ने पिछले साल 500 करोड़ रुपए अहमदनगर के निलवंडे कनाल के लिए देने का निर्णय लिया था. इसके खिलाफ आरटीआई कार्यकर्ताओं ने याचिका दायर की थी. इस याचिका पर निर्णय देते हुए शिरडी साईं बाबा संस्थान के फंड बांटने पर बॉम्बे हाईकोर्ट ने पांबदी लगाई थी.

सालों पहले कोल्हापुर-सांगली के पानी का लातूर ने चुकाया कर्ज, किया कुछ ऐसा

बता दें पश्चिमी महाराष्ट्र के कई जिले इन दिनों भीषण बाढ़ की चपेट में हैं, जिसके चलते मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी कोल्हापुर और सांगली में स्थिति का दौरा करने पहुंचे थे. वहीं उनसे पहले महाराष्ट्र के जलसंसाधन मंत्री गिरीश महाजन भी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने पहुंचे थे.