close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पश्चिम बंगालः बांग्लादेश से भारत घूमने आए पर्यटक की हाथी के कुचलने से मौत

राष्ट्री राजमार्ग पर एक हाथी बीच सड़क पर आ पहुंचा और पर्यटकों को उसकी तस्वीर लेने की इच्छा जागी जिस पर हाथी ने उन पर हमला कर दिया.  

पश्चिम बंगालः बांग्लादेश से भारत घूमने आए पर्यटक की हाथी के कुचलने से मौत
कैमरे के फ्लैश के कारण हाथी घबरा गया और इधर उधर भागने लगा.(फाइल फोटो)

(के टी अल्फी)/ जलापाईगुड़ीः पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी के मालबाजार में शुक्रवार की शाम को  नागराकोटा से मूर्ति जाने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग के चंद्रचूड़ टावर के पास हाथी की तस्वीर लेते वक़्त एक बांग्लादेशी पर्यटक की मौत हो गई. पुलिस ने बताया कि पर्यटक का नाम सय्यद नूर साइमन बिन (50 साल ) है जो बांग्लादेश के ढाका शहर का रहने वाला है. जांच से पता चला है कि बांग्लादेश से 5 पर्यटकों की एक टीम कलिम्पोंग के जोल्टाका इलाके के एक रिसॉर्ट में रुकी हुई थी और वहीं से वो लोग लोटागुड़ी के जंगल में शाम को सफारी के लिए निकले थे. जंगल सफारी खत्म करने के बाद इन सभी लोगों को मूर्ति से होकर के डालगाउट जाना था , मगर चंद्रचूड़ टावर के पास राष्ट्री राजमार्ग पर एक हाथी बीच सड़क पर आ पंहुचा और पर्यटकों को उसकी तस्वीर लेने की इच्छा जागी जिस पर हाथी ने उन पर हमला कर दिया.

VIDEO: ये चिंपैंजी झाड़ू से करता है कमरे की सफाई, धोता है कपड़े

पुलिस के मुताबिक पर्यटकों ने जैसे ही कैमरा निकालकर हाथी की फोटो लेने चाही और फोटो खीचने लगे तो फ्लैश के कारण हाथी घबरा गया और इधर उधर भागने लगा. इस पर जब पर्यटक नहीं रुके और हाथी की तस्वीर लेते रहे तो हाथी बुरी तरह से गुस्सा हो गया और भागते हुए पर्यटकों पर ही हमला कर दिया. हाथी के हमला करने पर बाकि पर्यटक दौड़ कर गाडी में चढ़, लेकिन सय्यद नूर पीछे रह गया. इससे पहले की वो गाडी में चढ़ पाता उस हाथी ने सय्यद नूर को धर दबोचा और उसका सिर कुचल दिया.

अपनी रजाई को रोजाना Hug करती है ये लड़की, जल्द करेगी शादी!

हाथी के कुचलने से सैय्यद नूर की घटनास्थल पर ही मौत हो गई. जबकि, इस घटना को मिला के बीते 9 6 घंटे में 7 लोगों की मौत हो चुकी है. बता दें हाथी के हमले के चलते ही हाल ही में जंगल में लकड़ी उठाने वाली महिला की भी मौत हो गई थी. हाथी ने महिला को कुचलकर मार दिया था. वहीं हाथियों के लगातार होते हमले से पूरा इलाका आतंकित है. खास कर के स्थानीय लोग, यह भी नहीं समझ पा रहे हैं कि वह कहां जाएं और किससे अपनी सुरक्षा के बारे में कहें.