close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अखिलेश यादव ने आजमगढ़ से किया नामांकन, रैली में बोले- 'वो चायवाले हैं तो हम भी दूधवाले हैं'

अखिलेश यादव ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि मैं नॉमिनेशन फाइल करने से पहले आदरणीय मायावती जी से और नेताजी से आशीर्वाद लेकर आया हूं.

अखिलेश यादव ने आजमगढ़ से किया नामांकन, रैली में बोले- 'वो चायवाले हैं तो हम भी दूधवाले हैं'

आजमगढः लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha elections 2019) में समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज आजमगढ लोकसभा सीट से अपना नामांकन दाखिल किया. इस दौरान बीएसपी नेता सतीश चंद्र मिश्रा भी उनके साथ दिखे. इसके बाद अखिलेश यादव ने आजमगढ़ में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए केंद्र की मोदी सरकार और योगी सरकार पर जनकर निशाना साधा. अखिलेश यादव ने कहा कि जितने भी काम हमारी सरकार ने यूपी में किए थे सारे काम योगी सरकार ने बिगाड़ दिए.

अखिलेश यादव ने कहा, 'वादा किया गया था कि हर साल 2 करोड़ नौकरी दे दी जाएगी. लेकिन ऐसा नहीं हुआ. जिस भी गरीब किसान ने अगर यूरिया की बोरी खरीदी होगी तो बताओ 5 किलों उसमें से चोरी हो गई कि नहीं हो गई? हमें आपको समझाया उन्होंने कि ये रुपया जो पुराना वाला है जमा हो जाएगा तो काला धन आ जाएगा और भ्रष्टाचार खत्म हो जाएगा. बताओ कितना कालाधन आया है देश में? हमने तो पहले भी कहा था कि रुपया काला सफेद नहीं होता है. हमारा आपका लेन देने काला सफेद होता है. लेकिन लोगों ने उनपर भरोसा किया. 36 हजारा से ज्यादा उद्योगपति भारत छोड़कर चले गए हमारा आपका पैसा लेकर.'

यह भी पढ़ें- अखिलेश यादव ने फिर उठाए EVM पर सवाल, बोले- 'लोग टेक्नोलॉजी पर भरोसा नहीं कर पा रहे हैं'

अखिलेश ने कहा, 'इन्ही ने कहा कि चप्पल पहनने वाले हवाई जहाज में बैठ जाएंगे. लेकिन सुनने में आया है कि हवाई जहाज उड़ाने वाली कंपनी अपने हवाई जहाज एयरपोर्ट पर छोड़कर जा रही है. ये पहली सरकार है जो अपने वादे के खिलाफ काम करती है.'

'चौकीदार और ठोकीदार हटाने का चुनाव है'
सपा अध्यक्ष ने कहा, 'ये चुनाव चौकीदार और ठोकीदार हटाने का है. हमारे बाबा मुख्यमंत्री जो ठोकीदार है उन्होंने कहा कि ठोको नीति से काम करो. पुलिस को ये नहीं समझ में आया कि किसको ठोकना है. पुलिस ने कभी जनता को ठोक दिया. कभी जनता को मौका मिला तो जनता ने पुलिस को ठोक दिया. इतना ही नहीं हमारे सांसद विधायक भी समझ गए कि ठोको नीति से काम करना है.'

अखिलेश यादव ने कहा कि साल 2014 में आप लोगों ने चायवालों पर विश्वास किया था लेकिन चाय अच्छी नहीं बनी, क्योंकि बिना दूध के चाय अच्छी नहीं बनती है. वो चायवाले हैं तो हम भी दूधवाले हैं हमारे बिना कुछ नहीं हो सकता है. अखिलेश यादव ने कहा कि मैं नॉमिनेशन फाइल करने से पहले आदरणीय मायावती जी से और नेताजी से आशीर्वाद लेकर आया हूं.

अखिलेश के पहुंचने के पहले ही हजारों सपा कार्यकर्ता वहां पहुंच गए और उनमें भारी जोश दिखा. नामांकन पत्र भरने के बाद अखिलेश यादव ने कहा कि पहले और दूसरे चरण में गठबंधन के पक्ष में वोटों की बारिश हो रही है. सातवां चरण आते-आते कितने वोटों की बारिश होगी यह अंदाजा लगाना मुश्किल है. उन्होंने भारतीय जनता पार्टी पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी को केवल पांच नहीं बल्कि सात सालों का हिसाब देना होगा.

यह भी पढ़ेंः मुलायम की बहू अपर्णा यादव ने की आजम खान के बयान की निंदा, कहा- 'अखिलेश भैया लें एक्‍शन'

उन्होंने कहा कि आजमगढ़ समाजवादियों की धरती रही है. यहां का विकास सपा और बसपा ने ही किया है. जनता काम और तरक्की पर उनको वोट देगी. उन्होंने कहा कि मतदान काफी अच्छा चल रहा है उम्मीद है कि पहले चरण से भी अधिक मतदान होगा और आजमगढ़ की जनता समाजवादियों को अच्छे मतों से जिताएगी .

(इनपुट भाषा से भी)