close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

तीसरे चरण की वोटिंग के बाद मायावती ने खेला आरक्षण कार्ड, पीएम पर साधा निशाना

'दलितों, आदिवासियों और ओबीसी वर्गों के लिए सरकारी नौकरियों में आरक्षित लाखों पदों को नहीं भर कर इन उपेक्षित वर्गों के लोगों का हक मारने का काम बीजेपी की केन्द्र और राज्य सरकारों द्वारा लगातार क्यों किया जा रहा है?’

तीसरे चरण की वोटिंग के बाद मायावती ने खेला आरक्षण कार्ड, पीएम पर साधा निशाना
फाइल फोटो- DNA

लखनऊः लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) में अभी तक 3 चरणों की वोटिंग खत्म हो चुकी है और 4 चरणों पर मतदान होना बाकि है. बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर आरक्षण के मुद्दे पर देश को गुमराह करने का बुधवार को आरोप लगाया. मायावती ने ट्वीट कर कहा, ' पीएम मोदी द्वारा आरक्षण पर भी देश को गुमराह करने का प्रयास जारी है कि इसे खत्म नहीं किया जाएगा.'

मायावती ने कहा कि यह वास्तव में मोदी की एक और जुमलेबाजी है क्योंकि कांग्रेस की तरह इनके शासनकाल में भी एससी/एसटी/ओबीसी आरक्षण की व्यवस्था को पूरी तरह से निष्क्रिय और निष्प्रभावी बना दिया गया है.

मायावती ने सवाल किया, ‘‘इसके अलावा दलितों, आदिवासियों और ओबीसी वर्गों के लिए सरकारी नौकरियों में आरक्षित लाखों पदों को नहीं भर कर इन उपेक्षित वर्गों के लोगों का हक मारने का काम बीजेपी की केन्द्र और राज्य सरकारों द्वारा लगातार क्यों किया जा रहा है?’’ 

उन्होंने कहा कि बीजेपी और प्रधानमंत्री मोदी पहले इसका भी हिसाब-किताब दें.

बीजेपी सरकार आने के बाद से देश में बढ़ी गरीबी-बेरोजगारी : मायावती
इससे पहले मंगलवार को बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने फर्रूखाबाद लोकसभा सीट से सपा—बीएसपी गठबंधन प्रत्याशी मनोज अग्रवाल के समर्थन में आयोजित जनसभा में कहा था, 'बीजेपी की केंद्र में सरकार आने के बाद से देश में गरीबी और बेरोजगारी बढी है . वहीं कांग्रेस भी अपने वादों पर खरी नहीं उतरी.' 

यह भी पढ़ेंः सपा नेता रामगोपाल यादव ने मायावती के पीएम बनने के सवाल का दिया ये जवाब...

उन्होंने कहा कि केंद्र की बीजेपी सरकार ने बिना तैयारी के नोटबंदी व जीएसटी लागू किया, जिससे देश में गरीबी और बेरोजगारी बढ़ गयी . देश की अर्थव्यवस्था पर काफी बुरा प्रभाव पड़ा . सपा सुप्रीमो ने कहा कि कांग्रेस की सरकार के समय बोफोर्स और बीजेपी की केंद्र सरकार के समय राफेल का मामला चर्चा में है . बीजेपी की सरकार में देश की सीमाएं सुरक्षित नहीं हैं . उन्होंने कहा कि बीजेपी किसानों को छह हजार रूपये दे रही है . क्या इससे किसान की गरीबी दूर होगी ? 

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने सीबीआई और ईडी का गलत प्रयोग किया .कांग्रेस पर हमला बोलते हुए मायावती ने कहा कि जब से देश से अंग्रेज गये, तभी से कांग्रेस देश पर राज कर रही थी . प्रदेश में भी कांग्रेस की सरकार कई बार रही लेकिन कांग्रेस ने ऐसा कुछ नहीं किया जिससे जनता को लाभ मिला हो . 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार में सबसे ज्यादा लोग रोजी-रोटी की तलाश में पलायन कर गये . कांग्रेस ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में किये गये वादे भी पूरे नहीं किये थे . मायावती के साथ उनके भतीजे आकाश आनंद और बीएसपी महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा भी मंच पर मौजूद रहे . हरदोई के कछौना में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा कि कांग्रेस ने लंबे शासन काल में अगर अच्छा काम किया होता तो हमें बहुजन समाज पार्टी नहीं बनानी पड़ती .

मायावती ने कहा कि अपनी गलत नीतियों के कारण बीजेपी भी सत्ता से जाएगी और उसकी जुमलेबाजी काम नहीं आएगी . उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जो वादे किए थे, उनका चौथाई काम भी नहीं किया . मोदी ने सिर्फ पूंजीपतियों का काम किया और उनकी चौकीदारी की . बीएसपी सुप्रीमो ने कहा कि भ्रष्टाचार के लिए कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही जिम्मेदार हैं .