close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मेरे बयान पर EC संज्ञान लेता है, शहला राशिद हिंदुओं को गाली देती है तो सभी मौन हैं : गिरिराज सिंह

बीजेपी उम्मीदवार गिरिराज सिंह ने अपने कार्यकर्ताओं को संयम बरतने की अपील भी की है. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि जब हम बोलते हैं तो चुनाव आयोग संज्ञान लेता है, जबकि विपक्षी दल सीपीआई के शहला राशिद चुनाव प्रचार में विष वमन कर हिंदू धर्म को गाली देती है तो सब मौन हैं.

मेरे बयान पर EC संज्ञान लेता है, शहला राशिद हिंदुओं को गाली देती है तो सभी मौन हैं : गिरिराज सिंह
गिरिराज सिंह ने कार्यकर्ताओं से संयम बरतने की अपील की है. (फाइल फोटो)

बेगूसराय : लोकसभा चुनाव के चौथे चरण के लिए आज (शनिवार को) प्रचार का अंतिम दिन है. 29 अप्रैल यानी सोमवार को बिहार के पांच लोकसभा सीटों के लिए वोटिंग होगी. उनमें बेगूसराय भी शामिल है. यहां से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के कद्दावर नेता गिरिराज सिंह, सीपीआई के कन्हैया कुमार और आरजेडी के तनवीर हसन के बीच लड़ाई मानी जा रही है. चुनाव प्रचार के खत्म होते ही, नेताओं की आपसी जुबानी जंग भी समाप्त हो जाएगी.

इस सबके बीच बीजेपी उम्मीदवार गिरिराज सिंह ने अपने कार्यकर्ताओं को संयम बरतने की अपील भी की है. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि जब हम बोलते हैं तो चुनाव आयोग संज्ञान लेता है, जबकि विपक्षी दल सीपीआई के शहला राशिद चुनाव प्रचार में विष वमन कर हिंदू धर्म को गाली देती है तो सब मौन हैं.

गिरिराज सिंह ने आरोप लगाते हुए कहा कि शहला राशिद पर कहती है कि हिंदू और मुस्लिम गौ मांस खाते हैं. जबकि हम तो गौ माता की पूजा करते हैं. उन्होंने कहा कि शहला राशिद ने ये कभी नहीं कहा कि हिंदू-मुस्लिम सुअर का मांस खाते हैं. उन्हें सिर्फ हिंदुओं के धर्म, देवी-देवताएं ही नजर आते हैं गाली देने के लिए. समाज विभिन्न जातियों में विभक्त है, यह वोट बैंक नहीं है.

गिरिराज सिंह ने कहा कि अगर यह समाज वोट बैंक होता तो हमारे धर्म को इतनी गाली नहीं दी जाती. कोई कहता है कि वंदे मातरम नहीं बोलूंगा. जिसको जो मन आता है वह बोल रहा है. गाली दिए जा रहा है. हम कुछ बोलते हैं तो हमारे मित्र ही बोलते हैं कि यह अनुचित है. जब क्रिया होगी तो प्रतिक्रिया स्वभाविक है.