लोकसभा चुनाव 2019: छत्तीसगढ़ में नक्सलियों की वोटिंग रोकने की कोशिश, नारायणपुर में किया ब्‍लास्‍ट

नारायणपुर जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले के फरसगांव पुलिस थाना क्षेत्र के अंतर्गत नारायणपुर दंडवन मार्ग पर आज तड़के नक्सलियों ने मतदान दलों को निशाना बनाकर बारूदी सुरंग में विस्फोट किया है.

लोकसभा चुनाव 2019: छत्तीसगढ़ में नक्सलियों की वोटिंग रोकने की कोशिश, नारायणपुर में किया ब्‍लास्‍ट
फोटो साभार : ANI

रायपुर (हेमंत संचेती): लोकसभा चुनावों के पहले चरण में छत्तीसगढ़ की एक सीट पर वोटिंग चालू है. वोटिंग के लिए लोगों में भारी उस्ताह देखने को मिल रहा है. वहीं, चुनावों को प्रभावित करने के लिए छत्‍तीसगढ़ के नारायणपुर में नक्सलियों ने आईडी ब्लास्ट किया. यह घटना फरसगांव थाना क्षेत्र की है. एसपी ने इसकी पुष्टि की है. एसपी ने कहा कि इस ब्लास्ट में किसी तरह की हानि नहीं हुई है.

नक्सलियों ने मतदान दलों को बनाया निशाना
नारायणपुर जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले के फरसगांव पुलिस थाना क्षेत्र के अंतर्गत नारायणपुर दंडवन मार्ग पर आज तड़के नक्सलियों ने मतदान दलों को निशाना बनाकर बारूदी सुरंग में विस्फोट किया है. अधिकारियों ने बताया कि नक्सली आज तड़के सड़क में बारूदी सुरंग लगाकर मतदान दलों का इंतजार कर रहे थे. लेकिन जब सुरक्षा बलों ने मार्ग बदल दिया और मतदान दलों को जंगल के रास्ते से ले गए तब नक्सलियों ने बम में विस्फोट कर दिया और वहां से भाग गए.

मतदाताओं में कम नहीं हुआ उत्साह
नक्सलियों द्वारा ब्लास्ट किए जाने के बाद भी मतदाताओं का उत्साह कम नहीं हुआ है. नक्सलियों की इस कायराना हरकत को दरकिनार कर मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करने बड़ी संख्या में मतदान केंद्र पहुंच रहे हैं.

80 हजार जवानों को किया गया है तैनात
इस क्षेत्र के मतदाता आज सात उम्मीदवारों के राजनीतिक भाग्य का फैसला कर रहे हैं. क्षेत्र में शांतिपूर्ण मतदान के लिए सुरक्षा बलों के लगभग 80 हजार जवानों को तैनात किया गया है.  इस संसदीय सीट के अंतर्गत विधानसभा क्षेत्र कोंटा, दन्तेवाड़ा, बीजापुर और नारायणपुर में सुबह सात बजे से दोपहर तीन बजे तक मतदान होगा. तथा विधानसभा क्षेत्र बस्तर, चित्रकोट, कोण्डागांव और जगदलपुर में सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक मतदान होगा.

छत्तीसगढ़ में 31 मतदान केंद्र अतिसंवेदनशील
बता दें कि छत्तीसगढ़ में 31 अतिसंवेदनशील मतदान केन्द्र हैं. जिसमें से 19 मतदान केन्द्रों के मतदान दलों को हेलीकॉप्टर से भेजा गया था. वही आज 12 अतिसवेदंशील मतदान केद्रो के दलों को हेलीकाप्टर से रवाना किया गया और शेष बचे 94 मतदान केन्द्रों को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच बसों से रवाना किया जाएगा. जिला कलेक्टर ने बताया कि सभी मतदान केद्रो के मतदान दलों को भेजने के लिए मायक्रो मेनेजमेंट करके भेजने की तैयारी शुरू से की है.