close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लोकसभा चुनाव 2019: पांचवें चरण में पूनम सिन्हा सबसे अमीर उम्मीदवार, जानें कितनी है संपत्ति

कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी और लखनऊ से समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी पूनम सिन्हा पांचवें चरण के होने वाले लोकसभा चुनाव में सबसे अमीर उम्मीदवार हैं. अमीर उम्मीदवारों की सूची में सिन्हा पहले स्थान पर हैं.   

लोकसभा चुनाव 2019: पांचवें चरण में पूनम सिन्हा सबसे अमीर उम्मीदवार, जानें कितनी है संपत्ति
एडीआर के अनुसार, लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में 668 में से 184 प्रत्याशी ऐसे हैं, जिनकी कुल संपत्ति एक करोड़ रुपये या उससे अधिक है.

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी और लखनऊ से समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी पूनम सिन्हा पांचवें चरण के होने वाले लोकसभा चुनाव में सबसे अमीर उम्मीदवार हैं. नेशनल इलेक्शन वॉच (न्यू) और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) के अनुसार, उन्होंने अपनी संपत्ति 193 करोड़ रुपये घोषित की है.  

अमीर उम्मीदवारों की सूची में सिन्हा 193 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ पहले स्थान पर हैं. उनके बाद सीतापुर से प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के उम्मीदवार विजय कुमार मिश्रा 177 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ दूसरे स्थान पर हैं. सूची में तीसरे स्थान पर 77 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के हजारीबाग से उम्मीदवार जयंत सिन्हा हैं. चुनाव मैदान में तीन उम्मीदवार ऐसे भी हैं, जिन्होंने अपनी संपत्ति शून्य बताई है. 

न्यू और एडीआर के अनुसार, लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में 668 में से 184 प्रत्याशी ऐसे हैं, जिनकी कुल संपत्ति एक करोड़ रुपये या उससे अधिक है. इनमें से ज्यादातर भाजपा के हैं. सात राज्यों के 51 लोकसभा क्षेत्रों में छह मई को होने वाले पांचवें चरण के मतदान के लिए चुनाव लड़ रहे 668 प्रत्याशियों में से 674 का विश्लेषण उनके दिए शपथ-पत्रों से एडीआर ने किया है. संगठन ने कहा, "इस रिपोर्ट को बनाने तक छह उम्मीदवारों का विश्लेषण इसलिए नहीं हो पाया, क्योंकि संपत्ति को लेकर उनके शपथ-पत्र की जांच पूरी नहीं हो पाई है."

 

रपट में कहा गया है, "प्रमुख दलों में, भाजपा के 48 उम्मीदवारों में से 38, कांग्रेस के 45 उम्मीदवारों में से 32, बसपा के 33 उम्मीदवारों में से 17, 9 सपा उम्मीदवारों में से आठ और 252 निर्दलीय उम्मीदवारों में से 31 ने एक करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति की घोषणा की है."

वहीं 264 उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षिक योग्यता कक्षा पांच से लेकर 12 तक बताई है. 348 उम्मीदवारों ने खुद को स्नातक और उससे अधिक बताया है. संगठन ने कहा, "चुनावी मैदान में 43 प्रत्याशी ऐसे हैं, जो बस साक्षर हैं और छह प्रत्याशी ऐसे हैं, जो निरक्षर हैं."