मतगणना से पहले स्मृति ईरानी ने किया ट्वीट, 'ये चुनाव जनता बनाम विपक्ष का था'

केंद्रीय वस्त्र मंत्री और अमेठी लोकसभा क्षेत्र की बीजेपी प्रत्याशी स्मृति ईरानी मतगणना के दिन गुरुवार (23 मई) अमेठी में रहेंगी. बुधवार शाम तक वह अमेठी पहुंचेंगी. 

मतगणना से पहले स्मृति ईरानी ने किया ट्वीट, 'ये चुनाव जनता बनाम विपक्ष का था'
अमेठी से राहुल गांधी और स्मृति ईरानी के बीच कांटे की टक्कर है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव के नतीजे (Lok Sabha Elections 2019 Results) 23 मई को सबके सामने आने वाले हैं. एग्जिट पोल्स के आने से हालांकि एनडीए खेमे में जोश में हैं, लेकिन वहीं, विपक्ष को उम्मीद है कि एग्जिट पोल्स के आंकड़े इस बार गलत साबित होकर रहेंगे. मतगणना से एक दिन पहले बीजेपी की केंद्रीय मंत्री और अमेठी से सांसद स्मृति ईरानी ने एक ट्वीट करके मतदाताओं का आभार व्यक्त किया है. 

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने ट्वीट कर कहा, 'यह चुनाव जनता बनाम विपक्ष का था. ये चुनाव उन लोगों के लिए था, जो अराजकतावादियों के खिलाफ खड़े हो गए और जो चिल्ला रहे थे, 'भारत के टुकड़े होंगे'. मैं उन मतदाताओं को प्रति आभार व्यक्त करती हूं, जिन्होंने भारत और उसके भविष्य पर निश्चित रूप से पूरा भरोसा किया.'

केंद्रीय वस्त्र मंत्री और अमेठी लोकसभा क्षेत्र की बीजेपी प्रत्याशी स्मृति ईरानी मतगणना के दिन गुरुवार (23 मई) अमेठी में रहेंगी. वह गणना परिसर में मौजूद रहकर अपने काउंटिंग एजेंट के अलावा पार्टी नेताओं का उत्साह बढ़ाएंगी. स्मृति के बुधवार शाम तक अमेठी पहुंचने की संभावना जताई जा रही है.  चुनाव के दौरान राहुल जहां तीन-चार बार ही अमेठी आए, वहीं प्रत्याशी घोषित होने के बाद से ही अमेठी में डटीं स्मृति छह मई को मतदान समाप्त होने के बाद दिल्ली लौटीं.

लाइव टीवी देखें

अमेठी संसदीय सीट को कांग्रेस का दुर्ग कहा जाता है. इस सीट पर अभी तक 16 लोकसभा चुनाव और 2 उपचुनाव हुए हैं. इनमें से कांग्रेस ने 16 बार जीत दर्ज की है. वहीं, 1977 में लोकदल और 1998 में बीजेपी को जीत मिली है. जबकि बसपा और सपा अभी तक अपना खाता नहीं खोल सकी है. अमेठी से इस बार कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी और बीजेपी की केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के बीच कांटे की टक्कर है. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.