देश में ओवैसी जैसे लोग नफरत फैलाने की कोशिश कर रहे हैं: बीजेपी

दिल्ली के जामिया मिलिया इस्लामिया में हुए हिंसक प्रदर्शन पर बीजेपी ने विपक्षी नेताओं को घेरा है.

देश में ओवैसी जैसे लोग नफरत फैलाने की कोशिश कर रहे हैं: बीजेपी

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) को लेकर दिल्ली के जामिया मिलिया इस्लामिया में हुए हिंसक प्रदर्शन पर बीजेपी ने विपक्षी नेताओं को घेरा है. बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा (Sambit Patra) का कहना है कि विपक्ष देश को बरगलाने की कोशिश कर रहा है. देश की संसद से पास हुए कानून को गैरकानूनी नहीं बताया जा सकता है. उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी देश में नफरत फैलाने की कोशिश कर रहे हैं.

पात्रा ने कहा, ''छात्रों के कंधे पर बन्दूक रखकर जिस प्रकार से उन्हें मोहरा बनाया जा रहा है और अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षा को पूरा करने का प्रयास कुछ पॉलिटिकल पार्टियां कर रही हैं, वो कल से हम दिल्ली में देख रहे हैं और आज लखनऊ में भी हमने देखा.''

दिल्ली हिंसा के उपद्रवियों को बख्शने के मूड में नहीं सरकार, सख्त कार्रवाई के आदेश: सूत्र

बीजेपी नेता ने अपने बयान में कहा कि नागरिकता संशोधन कानून (CAA) में किसी भी हिंदुस्तानी नागरिक का चाहे वो हिंदू हो, मुसलमान हो या अन्य किसी भी जाति या धर्म का हो उसके किसी भी अधिकार का हनन नहीं हो रहा. ये छात्र पढ़े लिखे हैं, लेकिन कुछ लोग अपने स्वार्थपूर्ण राजनीतिक हितों को साधने के लिए इन्हें भ्रमित कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि ये सच्चाई है कि आज सारी राजनीतिक पार्टियां जो विपक्ष में हैं, उन्होंने नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ बिना किसी तथ्य के एक मोर्चा खोला है.

जामिया हिंसा: 2 दिन से गुपचुप चल रही थी तैयारी, चूक गया दिल्ली पुलिस का खुफिया तंत्र!

संबित ने कहा, ''शनिवार को राहुल गांधी जी ने एक रैली की थी, लोग कह रहे हैं कि राहुल गांधी खुद को रिलॉन्च करना चाहते हैं. ऐसा क्यों है कि शनिवार को ही राहुल गांधी खुद को पुनः लॉन्च करने की कोशिश करते हैं और रविवार से ही देश में आगजनी लॉन्च हो जाती हैं.''

जामिया नगर हिंसा पर ओवैसी का ट्वीट, 'जामिया यूनिवर्सिटी के साथ खड़ा हूं'

उन्होंने कहा, ओवैसी जी आजकल हर विषय पर हिंदू, मुसलमान करके देश को बांटने की कोशिश हो रही है. उसी प्रकार आम आदमी के अमानतुल्ला काम कर रहे हैं. ममता दीदी ने तो कहा है कि मुझे किसी को रखने की जरूरत नहीं है, मैं स्वयं ही सभी जाति-धर्म के नाम पर बंगाल को बांट दूंगी.

डॉ. संबित ने आखिर में कहा कि सीएए अधिकार छीनने का नहीं अपितु अधिकार देने का कानून है, उसमें जिस प्रकार शांति और चैन छीनने का काम कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और TMC कर रही है, वो निंदनीय है.