close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कांग्रेस विजय को पचा नहीं पाती, पराजय को स्वीकार नहीं कर पाती: PM मोदी

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि इतने बड़े जनादेश को कह दें कि आप तो चुनाव जीत गए, देश हार गया. इससे बड़ा अपमान देश की जनता का नहीं हो सकता है, ये गंभीरता से सोचने की बात है.

कांग्रेस विजय को पचा नहीं पाती, पराजय को स्वीकार नहीं कर पाती: PM मोदी

नई दिल्‍ली: राष्‍ट्रपति के अभिभाषण पर धन्‍यवाद प्रस्‍ताव पर राज्‍यसभा में बोलते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पहले से अधिक जन समर्थन के साथ और अधिक विश्वास के साथ देश का सेवा करने का मौका मिला है. इसके लिए सभी का आभार व्‍यक्‍त करता हूं. ये चुनाव बहुत खास रहा. कई दशकों के बाद दोबारा पूर्ण बहुमत की सरकार चुनकर आई है. देश की जनता ने स्थिरता को बल दिया है.

उन्‍होंने कहा कि बहुत कम ऐसे अवसर आते हैं जब स्वयं देश की जनता लड़ती है. 2019 का चुनाव देश की जनता ने लड़ा है. जनता खुद सरकार के कामों की बात लोगों तक पहुंचा रही थी. इससे भारत के परिपक्‍व बड़े लोकतंत्र की ग्लोबल वैल्यू होती है.

इस संदर्भ में कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि इतने बड़े जनादेश को कह दें कि आप तो चुनाव जीत गए, देश हार गया. इससे बड़ा अपमान देश की जनता का नहीं हो सकता है, ये गंभीरता से सोचने की बात है. लोकतंत्र हार गया, तो मैं पूछना चाहूंगा कि वायनाड, अमेठी, रायबरेली, तिरुअनंतपुरम में भी लोकतंत्र हार गया क्या? कांग्रेस हारी तो क्‍या देश हार गया क्या? अहंकार की सीमा होती है. कांग्रेस 17 राज्यों में एक भी सीट नहीं जीत पाई. इस प्रकार की भाषा बोलकर मतदाताओं के विवेक पर ठेस पहुंचाई है. आलोचना सम्मानित है, लेकिन देश के मतदाताओं का अपमान पीड़ा देता है. 

VIDEO: आखिर किसने कहा- 'यदि मुसलमान गटर में पड़े रहना चाहते हैं तो पड़ा रहने दो'?

उन्‍होंने कहा कि इस चुनाव को देखें कि 40-45 डिग्री में 80 साल के बुजुर्ग वोट देने गए. पता नहीं हमारे मन को क्या हो गया है? किसान को बिकाऊ कहकर अपमानित किया. मीडिया को बिकाऊ कहा गया, मीडिया बिक गई, क्या केरल में मीडिया बिक गई. भारत के लोकतंत्र पर गर्व होना चाहिए. हम अपने निजी राजनीतिक कारणों से इसका विरोध कर रहे हैं. हमारे देश में बहन-बेटियों, पुरुष और महिलाओं के बीच वोटिंग का अंतर इस बार जीरो हो गया है.  मैं सिर झुका कर भारत के मतदाताओं का अभिवादन करता हूं.

ईवीएम का मुद्दा
पीएम मोदी ने कहा कि ईवीएम को लेकर बीमारी शुरू हो गई. ईवीएम को लेकर सवाल उठाए जाते हैं, बहाने बनाए जाते हैं. हम भी सदन में संख्‍याबल के लिहाज से 2 रह गए थे, बुरे दिन देखे थे. हमारा कार्यकर्ताओं पर भरोसा था, निराशाजनक माहौल में खड़े होकर काम किया. जब स्वयं पर भरोसा नहीं हो, तो बहाने खोजे जाते हैं, गलतियों को स्वीकारते नहीं है. इस प्रकार की निराशा का क्या मतलब है, आगे भी चुनाव होंगे. चुनाव प्रक्रिया में काफी सुधार आया है. सुधार निरंतर होते रहे हैं. पहले चुनाव के बाद हेडलाइन होता था कि चुनाव के दौरान कितनी हिंसा हुई और आज हेडलाइन होता है कि पहले की तुलना में वोटिंग कितनी ज्यादा हुई है.

पीएम मोदी ने किया नेहरू को याद, बोले- 'राष्ट्र निर्माण के लिए कर्तव्य के मार्ग पर चलें'

पीएम मोदी ने कहा कि ईवीएम की चर्चा 1977 में शुरू हुई, 1982 में पहली बार उपयोग किया गया. 1988 में इसको कानूनन मंजूरी दी गई. 1992 में कांग्रेस के लोगों ने रूल बनाए. आज आप हार गए हो तो रो रहे हो. ईवीएम से 113 चुनाव हुए हैं. सभी दलों को सत्ता में आने का या भागीदार बनने का मौका मिला. 2001 के बाद विभिन्न हाईकोर्ट में मसला उठाया गया. 2017 में हो हल्ला हुआ, चुनाव आयोग ने चैलेंज किया कि आप आइए और गलत हो तो दिखाई. केवल दो पार्टियां गईं- एनसीपी, सीपीआई. उन्होंने भी सवाल नहीं उठाया. इतना बड़ा तूफान खड़ा हो गया कि हमारे लोगों ने भी सवाल खड़ा कर दिया गया लेकिन हमने उनको समझाया, टेक्नोलॉजी है समझनी चाहिए.

इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि फिर वीवीपैट की बात आई. पूरे चुनाव को डीरेल करने की कोशिश हुई. वीवीपैट ने फिर एक बार ईवीएम को मजबूत किया. कांग्रेस से कहना चाहता हूं कि आपने इतने साल राज किया. कहना चाहता हूं कि आप में कुछ दिक्कत है- आप विजय को पचा नहीं पाते, पराजय को स्वीकार नहीं पाते.  मप्र में क्या हुआ. जीते, फिर कैसी कैसी बातें आती गईं.

एक देश-एक चुनाव
पीएम मोदी ने कहा कि इलेक्शन के रिफॉर्म अनिवार्य रूप से होने चाहिए. हमारे देश में एक देश-एक चुनाव होता था. 1992 के बाद से नहीं हुआ. ओडिशा के मतदाताओं ने लोकसभा के लिए अलग मतदान किया, विधानसभा के लिए अलग मतदान किया. ये है मतदाताओं की परिपक्‍वता. भ्रांति फैलाई जाती है कि क्षेत्रीय पार्टियां खत्म हो जाएंगी. ऐसा नहीं है, आंध्र में क्षेत्रीय दल जीता, ओडिशा में क्षेत्रीय पार्टी ने चुनाव जीता.

पीएम मोदी ने कहा कि विपक्ष विरोध में विरोध करता है. हमारे देश में डिजिटल ट्रांज़ेक्शन नहीं हो सकता है. हम आधार लाएं तो गलत, डिजिटल ट्रांज़ेक्शन, जीएसटी, ईवीएम, भीमऐप, सबका विरोध होता है. राज्य सभा में जो भी गतिविधि होती है, मतदाता नोटिस करता है.  रुकावट डालने का काम रहा है. उनको जनता ने सजा दिया है. हम हैरान हैं कि न्यू इंडिया का विरोध कर रहे हैं. देश के लोगों को निराश करने का प्रयास नहीं करें. वो ओल्ड इंडिया चाहिए जहां प्रेस कांफ्रेंस में कैबिनेट का फैसला फाड़ दिया गया. क्‍या वो ओल्ड इंडिया चाहिए जो टुकड़े टुक़ड़े गैंग के लिए खड़ा रहे? देश की जनता पुराने जमाने में जाने को तैयार नहीं है. जल-थल-नभ में घोटाले वाला ओल्ड इंडिया चाहिए? क्या इंस्पेक्टर राज वाला ओल्ड इंडिया चाहिए? हमने सरलीकरण को बल दिया है. हम सामान्य नागरिकों के सशक्‍तीकरण के  लिए काम कर रहे हैं. देश छोटी-छोटी चीज़ों से बनता है. इसमें शर्म नहीं आनी चाहिए. हम छोटे-छोटे लोगों के बीच से आएं हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि हम भाग्यवान कालखंड में हैं. सौभाग्य के पल आए हैं. हम कोई भी निर्णय करें. बढ़ी हुई आकांक्षाओं को पूरा करने का प्रयास करें. जनादेश का गला घोटने का प्रयास नहीं किया जाए. लोकसभा में देश ने जनादेश दिया है, राज्य सभा में भी इसका सम्मान मिलना चाहिए. हम तो आपसे भी सीखने को तैयार हैं.

झारखंड में युवक की हत्या के मसले पर बोलते हुए उन्‍होंने कहा कि इस तरह की घटना का दुख सबको है. दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए. लेकिन पूरे झारखंड राज्य को बदनाम करने का हक नहीं है. अपराध होने पर इसका उपाय कानूनी प्रक्रिया है. हिंसा में दुनिया में टेरररिज्म की घटनाओं से सबसे ज्यादा नुकसान अच्‍छे आतंकवाद और बुरे आतंकवाद ने किया है. राजनीति स्कोर के लिए बहुत से क्षेत्र हैं. हम अपने दायित्व को निभाएं. सबका साथ सबका विकास का नारा लेकर हम चले थे, जनता ने अमृत भर दिया. वो है सबका विश्वास. देश की जनता ने भरा है. हमारे आजाद साहब (गुलाम नबी आजाद) को धुंधला नज़र आ रहा है, राजनीतिक चश्में को उतार कर देखेंगें तो साफ नज़र आएगा. गालिब की शायरी है- धूल चेहरे पर थी, आइना साफ करता रह गया.

कांग्रेस पर निशाना
पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि आपका तो इतिहास है कि उपराष्ट्रपति के उम्मीदवार को हरा देते हैं. बाबा अंबेडकर को हराने का पूरा प्रयास किया. सिखों को जिंदा जला दिया गया. वो लोग आज भी उस पार्टी में सम्मानित पदों पर हैं. पीएम मोदी ने कहा कि यदि आपको क्रेडिट ही लेना है तो NRC का क्रेडिट लीजिए. लेकिन आप उसे नहीं लेंगे. राजीव गांधी ने nrc accord को स्वीकार किया था. उसका क्रेडिट लीजिए ना लेकिन इसके लिए सुप्रीम कोर्ट को हस्‍तक्षेप करना पड़ा.

सरदार पटेल
पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सोच है कि अगर सरदार पटेल पीएम होते को कश्मीर की समस्या नहीं होती. गांव की समस्या नहीं होती. सरदार साहब कांग्रेस के लिए जिए. statue of unity पर जाकर सरदार जी को श्रद्धा सुमन दीजिए ना. गुलाम नबी जी कुछ दिन गुजारिए गुजरात में. सरदार सरोवर में लोगों को फोटो के लिए टिकट लगाया. जो पांच लाखवां कपल था वो बारामूला का था.