close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

36 दिनों में बाबा केदारनाथ के दर्शन के लिए पहुंचे 6 लाख श्रद्धालु, रोज 20 हजार लोग कर रहे हैं दर्शन

जब से भगवान केदारनाथ की यात्रा शुरू हुई है, तब से प्रत्येक दिन यात्रियों की संख्या में अधिक इजाफा हुआ है. पिछले साल पूरे छह माह के भीतर सात लाख से अधिक यात्री केदारनाथ धाम पहुंचे थे.

36 दिनों में बाबा केदारनाथ के दर्शन के लिए पहुंचे 6 लाख श्रद्धालु, रोज 20 हजार लोग कर रहे हैं दर्शन
रोज दिन केदारनाथ मंदिर से लेकर एमआई 17 हेलीपैड तक एक किमी तक लंबी लाइन लग रही है.

रुद्रप्रयाग, हरेन्द्र नेगी: पिछले साल की तुलना में इस बार केदारनाथ धाम की यात्रा तेज रफ्तार से चल रही है. 36 दिन के भीतर छः लाख से अधिक तीर्थ यात्रियों ने बाबा केदार के दर्शन किये हैं, जहां पिछले सालों तक केदारनाथ धाम की यात्रा, बदरीनाथ धाम की यात्रा से पीछे रहती थी, वहीं इस बार बदरीनाथ और केदारनाथ पहुंचने वाले यात्रियों का आंकड़ा लगभग बराबर है. 

जब से भगवान केदारनाथ की यात्रा शुरू हुई है, तब से प्रत्येक दिन यात्रियों की संख्या में अधिक इजाफा हुआ है. पिछले साल पूरे छह माह के भीतर सात लाख से अधिक यात्री केदारनाथ धाम पहुंचे थे. लेकिन इस वर्ष मात्र 36 दिन में ही छह लाख से अधिक यात्री बाबा के दरबार में पहुंच चुके हैं. जिस प्रकार प्रत्येक दिन बीस हजार से अधिक यात्री केदारनाथ धाम जा रहे हैं. उससे लग रहा है कि बीस जून से पहले-पहले केदारनाथ धाम पहुंचने वाले यात्रियों का आंकड़ा सात लाख पार हो जायेगा. 

जिस हिसाब से यात्री उमड़ रहे हैं, उस हिसाब से केदारनाथ धाम में व्यवस्थाएं नहीं बन पा रही हैं. पहली बार ऐसा हो रहा है कि बाबा के दर्शनों के लिए रात दो बजे से लाइन लग रही है. यात्रियों कड़ाके की ठंड में भी बाबा के दर्शनों का इंतजार कर रहे हैं. आलम ये है कि केदारनाथ में रहने की जगह तक नहीं मिल पा रही है, लेकिन फिर भी यात्री केदारनाथ पहुंच रहे हैं. 

प्रत्येक दिन केदारनाथ मंदिर से लेकर एमआई 17 हेलीपैड तक एक किमी तक लंबी लाइन लग रही है. यात्री धूप, बारिश और प्यास में बाबा केदार के दर्शनों के लिए घंटों इंतजार कर रहे हैं. यात्रियों की बढ़ रही संख्या से केदारनाथ के तीर्थ पुरोहित और जिले के व्यापारी भी खुश हैं. 

अभी तक छह लाख 12 हजार से अधिक यात्री केदारनाथ पहुंच चुके हैं. जो कि अपने आप में एक रिकार्ड है. जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने कहा कि प्रत्येक दिन यात्रियों की संख्या में वृद्धि हो रही है, जिससे कुछ दिक्कतें तो रही हैं. लेकिन दिक्कतों को दूर करने के प्रयास भी किये जा रहे हैं.