बायर्न म्यूनिख के लिए खेलने वाले भारतीय मूल के पहले खिलाड़ी बने सरप्रीत

बायर्न म्यूनिख ने बुंदेसलीगा के इस मैच में फिलिप कॉटिन्हो की हैट्रिक की मदद से वेर्डर ब्रेमेन को 6-1 से हराया. 

बायर्न म्यूनिख के लिए खेलने वाले भारतीय मूल के पहले खिलाड़ी बने सरप्रीत

मुंबई: मिडफील्डर सरप्रीत सिंह जर्मन फुटबॉल लीग बुंदेसलीगा (Bundesliga) में खेलने वाले भारतीय मूल के पहले फुटबॉलर बन गए हैं.  सरप्रीत ने शनिवार रात यहां वेर्डर ब्रेमेन के खिलाफ खेले गए मैच में बायर्न म्यूनिख (Bayern Munich) के लिए पदार्पण किया. बायर्न म्यूनिख ने इस मैच में फिलिप कॉटिन्हो की हैट्रिक की मदद से वेर्डर ब्रेमेन को 6-1 से करारी मात दी. 

20 वर्षीय सरप्रीत सिंह (Sarpreet Singh) ने प्री-सीजन के दौरान रियल मैड्रिड और आर्सेनल के खिलाफ अपने प्रदर्शन से सबको प्रभावित किया था. आधिकारिक पदार्पण से पहले उन्हें आठ बार बायर्न म्यूनिख के बेंच पर बैठना पड़ा था. 

यह भी पढ़ें: CAA: जामिया के छात्रों के समर्थन में आए इरफान पठान, कहा- हमारा देश लिए चिंतित है...

न्यूजीलैंड में पैदा हुए सरप्रीत ने पिछले साल न्यूजीलैंड के लिए पदार्पण किया था. उन्होंने भारत की धरती पर अपना पिछला मैच 2018 में इंटरकोन्टिनेंटल कप में न्यूजीलैंड के लिए खेला था. वे इस समय वेलिंगटन फोनिकक्स के लिए खेलते हैं. उन्होंने फोनिक्स के लिए अब तक 39 मैच खेले हैं. 

सरप्रीत न्यूजीलैंड के लिए अब तक छह मैच खेल चुके हैं. वे अंडर-19 फीफा वर्ल्ड कप में भी हिस्सा ले चुके हैं. उनके अंडर-19 वर्ल्ड कप के प्रदर्शन को देखकर ही बायर्न म्यूनिख ने उन्हें अपने साथ जोड़ने का फैसला लिया था.