ISL-6: नॉर्थईस्ट और ब्लास्टर्स मैच में हुए केवल पेनाल्टी से हुए गोल, यह रहा नतीजा

Indian Super League: नॉर्थईस्ट युनाइटेड एफसी और ब्लास्टर्स ने 1-1 से ड्रॉ खेला जिसमें केवल पेनाल्टी से ही गोल हो सका. 

ISL-6: नॉर्थईस्ट और ब्लास्टर्स मैच में हुए केवल पेनाल्टी से हुए गोल, यह रहा नतीजा
केरला ब्लास्टर्स और नॉर्थईस्ट के बीच मुकाबले में दोनों गोल पेनाल्टी से हुए. (फोटो: @ddsportschannel)

कोच्चि: मेजबान केरला ब्लास्टर्स (Kerala Blasters FC) और नॉर्थईस्ट (NorthEast United FC)) युनाइटेड एफसी के बीच इंडियन सुपर लीग  (Indian Super League) के छठे सीजन का मुकाबला बराबरी पर समाप्त हुआ. जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में शनिवार को खेले गए इस मैच में दोनों टीमें एक-एक गोल कर सकीं. दोनों गोल पेनाल्टी पर हुए.

ब्लास्टर्स 9वें स्थान पर
इस सीजन में मेजबान ब्लास्टर्स (Kerala Blasters FC) का यह 10वां मैच था. यह टीम चार हार, पांच ड्रॉ और एक जीत से आठ अंक लेकर 10 टीमों की तालिका में नौवें स्थान पर है. ब्लास्टर्स को सीजन के पहले मैच के बाद जीत नहीं मिली है.

यह भी पढ़ें: ISL-6: गोवा की चेन्नइयन पर शानदार जीत, टॉप पर पहुंची टीम

सातवें स्थान पर पहुंची नॉर्थईस्ट
दूसरी ओर, नॉर्थईस्ट (NorthEast United FC) युनाइटेड एफसी का यह नौवां मैच था. इस टीम को दो मैचों में जीत मिली है और इतने ही मैचों में हार का सामना करना पड़ा है. इसके पांच मैच ड्रॉ रहे हैं. यह टीम 11 अंकों के साथ सातवें स्थान पर है. हाईलैंडर्स नाम से मशहूर इस टीम को बीते पांच मैचों से जीत नहीं मिली है.

पहले हाफ में छाए ब्लास्टर्स
पहला हाफ पूरी तरह मेजबान ब्लास्टर्स (Kerala Blasters FC) के नाम रहा. 67 फीसदी समय तक गेंद को अपने कब्जे में रखने के बाद मेजबान टीम को 43वें मिनट में उस समय सफलता मिली जब उसे पेनाल्टी मिला. इस पेनाल्टी पर गोल करते हुए बार्थोलोमेव ओग्बेचे ने मेजबान टीम को 1-0 से आगे कर दिया.

सुभाशीष की गलती
मेजबान टीम को यह पेनाल्टी नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी के गोलकीपर सुभाशीष रॉय की गलती पर मिला. ओग्बेचे को मारियो अरक्वेस ने एक बेहतरीन लॉब्ड बॉल दिया था, जिसे लेकर बॉक्स की ओर बढ़ चले लेकिन रॉय ने उन्हें जानबूझकर पीछे से गिरा दिया. रेफरी ने बिना गलती किए पेनाल्टी दिया और ओग्बेचे ने बिना गलती किए गोल कर अपनी टीम को बढ़त दिला दी.

ये प्रयास हुए नाकाम
मेजबान टीम ने हालांकि छठे मिनट से ही माहौल बनाना शुरू कर दिया था. आठवें मिनट में प्रशांत के. के प्रयास को रॉय ने नाकाम कर दिया था. इसी तरह रॉय ने सित्यासेन सिंह के प्रयास को नाकाम किया. 20वें मिनट में हालांकि हाईलैंडर्स ने एक बेहतरीन मौका बनाया लेकिन कप्तान असामोह ग्यान गोलकीपर से वन-2-वन की स्थिति में भी चूक गए.

ऑफ साइड से बेकार हुआ गोल
32वें मिनट में ब्लास्टर्स (Kerala Blasters FC) को 18 गज के बॉक्स के ठीक बाहर से फ्रीकिक का मौका मिला. अरक्वेस ने फ्रीकिक लिया लेकिन रॉय ने उसे नाकाम कर दिया. 36वें मिनट में ग्यान ने हाईलैंडर्स के लिए पहला गोल कर दिया था लेकिन लाइंसमैन ने उन्हे ऑफसाइड करार दिया.

यह भी पढ़ें: ISL-6:  एटीके की बेंगलुरू पर लीग के इतिहास में पहली जीत, एक गोल से जीता रोमांचक मैच 

ब्लास्टर्स को मिली पेनाल्टी
37वें मिनट में ब्लास्टर्स (Kerala Blasters FC) के सेत्यासेन सिंह को पीला कार्ड मिला और 39वें मिनट में हाईलैंडर्स ने सहल अब्दुल समद को बाहर कर मोसी बोउली को अंदर लिया लेकिन मेसी के आते ही 41वें मिनट में ब्लास्टर्स (Kerala Blasters FC) को पेनाल्टी मिली, जिस पर गोल करते हुए ओग्बेचे ने मेजबान टीम को 1-0 से आगे कर दिया.

दूसरे हाफ में नॉर्थईस्ट को मिली पेनाल्टी
दूसरे हाफ की शुरुआत में 50वें मिनट में वही हुआ, जो पहले हाफ में ब्लास्टर्स (Kerala Blasters FC) के साथ हुआ था. इस बार नॉर्थईस्ट युनाइटेड एफसी को पेनाल्टी मिली और कप्तान ग्यान ने गोल करते हुए स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया.

ऐसे मिली पेनाल्टी
नॉर्थईस्ट (NorthEast United FC) युनाइटेड एफसी को यह पेनाल्टी ब्लास्टर्स (Kerala Blasters FC) के खिलाड़ी सेत्यासेन द्वारा हैंडबॉल पर मिला. अच्छा हुआ कि सिंह को पीला कार्ड नहीं मिला, वर्ना ब्लास्टर्स  को आगे 10 खिलाड़ियों के साथ ही खेलना पड़ता. 58वें मिनट में नॉर्थईस्ट  युनाइटेड एफसी ने एक और बेहतरीन मौका बनाया लेकिन वह गोल नहीं कर सकी.

फीर फीका रहा मैच 
इसके बाद अगले 30 मिनट तक किसी भी टीम की ओर से कोई बड़ा प्रयास नहीं हुआ. इस दौरान दोनों टीमों की ओर से जमकर रिप्लेसमेंट हुए और कुछ पीले कार्ड भी दिखाए गए लेकिन स्कोर 1-1 ही बना रहा.88वें मिनट में हालांकि ब्लास्टर्स (Kerala Blasters FC) को 20 गज की दूरी से एक फ्रीकिक मिला लेकिन वह उसका फायदा नहीं उठा सकी. निर्धारित समय की समाप्ति के बाद पांच मिनट अतिरिक्त जोड़े गए लेकिन कोई टीम पोस्ट को भेद नहीं सकी और एक-एक अंक बांटने पर मजबूर हुई.
(इनपुट आईएएनएस)